मुखपृष्ठ > फूयांग सिटी
एक्सपोर्ट सेक्टर के लिए खुशखबरी: सरकार ने निर्यात प्रोत्साहन के लिए घोषित की 50,000 करोड़ रुपए की योजना
रिलीज़ की तारीख:2022-09-29 07:16:52
विचारों:333

एक्सपोर्टसेक्टरकेलिएखुशखबरीसरकारनेनिर्यातप्रोत्साहनकेलिएघोषितकी50000करोड़रुपएकीयोजनाBudh Gochar 2022: बुध का कर्क राशि में गोचर, इन राशियों का होने वाला है भाग्योदय, 31 जुलाई तक होगा लाभ ही लाभ******वैदिक ज्योतिष में बुध को एक रियासती ग्रह के रूप में वर्णित किया गया है। बुध ग्रह अन्य ग्रहों की तुलना में सूर्य के बहुत करीब है। बुध व्यक्ति में बुद्धि, और हास्य का प्रतिनिधित्व करता है और कई स्थितियों में यह ग्रह बहुत फायदेमंद माना जाता है। जिन लोगों की कुंडली में बुध मजबूत स्थिति में होता है वे उज्ज्वल, ज्ञानी और बुद्धिमान होते हैं। इसके विपरीत यदि बुध कमजोर हो या नकारात्मक अवस्था में हो तो व्यक्ति को निर्णय लेने में कठिनाई और परेशानी हो सकती है। बुध 16 जुलाई की रात्रि 12 बजकर 10 मिनट पर मिथुन राशि की यात्रा समाप्त करके कर्क राशि में प्रवेश कर रहे हैं। इस राशि पर ये 31 जुलाई की मध्यरात्रि तक गोचर करेंगे, उसके बाद सिंह राशि में चले जाएंगे। कर्क राशि में बुध का गोचर कई राशियों के लोगों के लिए सकारात्मक परिणाम साबित होगा। तो आइए जानते हैं किस राशि के लिए लोगोंके लिए यह गोचर शुभ रहेगा।मेष राशि के लोगों के लिए यह गोचर लाभदायी रहेगा। इस अवधि के दौरान छात्र बेहतर परिणाम की उम्मीद कर सकते हैं। नोकरियात लोगों को अच्छे परिणाम और पदोन्नति मिलने की संभावना है। व्यापारी लोगों के लिए विदेश यात्रा का योग बनने वाला हे। आपको अपने परिवार का पूरा सहयोग मिलेगा।इस राशि के जातकों के लिए बुध का वृषभ राशि में गोचर बहुत ही शानदार रहेगा। यह वह समय होगा जब आपको जीवनसाथी का पूरा सहयोग मिलेगा। आपका जीवन आर्थिक रूप से भी मजबूत रहेगा। जो लोग नया घर बनाने की सोच रहे हैं उनके लिए यह समय काफी अच्छा रहने वाला है। इस राशि के लोगो के लिए बुध की कृपा से मान-सम्मान में वृद्धि होगी। इस दौरान आपको व्यापार में भी लाभ होगा। बुध गोचर के दौरान आपका स्वास्थ्य भी अच्छा रहेगा।इस राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर सुख भाव में रहने वाला है। फंसा हुआ पैसा भी वापस मिलने के योग बन रहे हैं। परिवार, भाई-बहनों का पूरा सहयोग मिलेगा। व्यापार में अपर सफलता मिलेगी। मिथुन राशि के स्वामी बुध हैं इसलिए सभी कार्य आसानी से पूरे होंगे। पैतृक संपत्ति को लेकर भाई-बहनों से चल रहा विवाद समाप्त होगा।कर्क राशि के लोगों के लिए बुध का परिवर्तन बहुत शुभ फल देगा। इस दौरान काम करने वाले लोगों को प्रमोशन मिलने की संभावना है जिससे आपकी सैलरी में भी वृद्धि हो सकती है। आपके द्वारा किए गए हर निवेश से आपको अच्छा रिटर्न मिलने की संभव हे। अपने परिवार के सदस्यों के साथ समय बिताने का मौका मिलेगा। अपने स्वास्थ्य का ध्यान रखें।बुध के कर्क राशि में प्रवेश करने पर सिंह राशि के लोगों के लिए अनुकूल समय है। इस अवधि में आपकी रचनात्मक क्षमता और अन्य कौशल में वृद्धि होगी, इतना ही नहीं आप अपने कार्यों को प्रभावी ढंग और कुशलता से पूरा करने में सक्षम होंगे। निजी जीवन में आनद का आगमन होगा। आपके घर और परिवार में खुशहाली बनी रहेगी। किन्तु स्वास्थ्य के प्रति लापरवाही न बरतें।इस राशि के लोगों के लिए यह गोचर ज्ञान और बुद्धि में वृद्धि लाएगा। निर्णय लेने की क्षमता मजबूत होगी। कार्यक्षेत्र जीवन में बॉस के साथ कुछ समस्याएं होने की संभावना है। मान-प्रतिष्ठा में वृद्धि होगी। सामाजिक क्षेत्र में प्रतिष्ठा बढ़ेगी। तीर्थ योग बनेगा। व्यापारियों को अपेक्षित सफलता मिल सकती है।तुला राशि के लोगों के लिए बुध का गोचर सामान्य रहेगा। आपको बेकार खर्चों पर अंकुश लगाने की जरूरत है, नहीं तो पैसा बर्बाद होगा। कार्यक्षेत्र में नए प्रोजेक्ट मिलने से जिम्मेदारी बढ़ सकती है। किसी भी काम को निष्ठां से करें, आपको पहले से ज्यादा मेहनत करनी होगी लेकिन शुभ फल भी आपको मिलेगा। शारीरिक स्वास्थ्य पर विशेष ध्यान देने की जरूरत है।वृश्चिक राशि के लोगों के लिए बुध गोचर धन योग बनता है जिससे व्यापार से जुड़े लोगों को लाभ होगा। करियर में तरक्की देखने को मिलेगी। रुका हुआ धन वापस मिलेगा, हालांकि अनावश्यक खर्च से बचें यह सार्थक रहेगा। स्वास्थ्य का विशेष ध्यान रखें। परिवार में किसी बात को लेकर तनाव रहे सकता है।कर्क राशि में बुध का गोचर कार्यक्षेत्र और करियर में सफलता का प्रतीक है। धनु राशि के छात्रों को मेहनत का शुभ फल मिलेगा। यदि आप अपनी नौकरी या स्थान बदलना चाहते हैं तो यह समय अनुकूल है। पारिवारिक तनाव दूर होगा। जीवनसाथी के साथ संबंध मधुर रहेंगे।मकर राशि के जातकों के लिए बुध गोचर फायदेमंद रहेगा। पैतृक धन को लेकर थोड़ा असंतोष रहेगा। कोई नयी संपत्ति खरीदने के लिए यह समय अनुकूल नहीं है। स्वस्थ्य का संपूर्ण ध्यान रखें। वैचारिक मजबूती आएगी, निर्णय लेने की क्षमता मजबूत होगी। परिवार में सुखद माहौल रहेगा। सार्वजनिक जीवन में प्रतिष्ठा बढ़ेगी।कुंभ राशि के जातकों को बुध के गोचर दौरान सावधानी बरतने की जरूरत है। स्वास्थ्य बिगड़ सकता है, परिवार और बच्चों के लिए चिंता बढ़ सकती है। आर्थिक मामलों को लेकर स्थिति में कुछ हद तक सुधार होगा। किसी भी परेशानी में परिवार का पूरा सहयोग मिलेगा।बुध गोचर मीन राशि लोगों के अनुवांशिक, प्रेम संबंधों के स्थान पर है इसलिए वैवाहिक जीवन में चल रहे तनाव से आपको मुक्ति मिलेगी। हालांकि स्वास्थ्य थोड़ा कमजोर रह सकता है। वहीं पेट से संबंधित कोई रोग होने की सम्भावना है। यदि आप नौकरी बदलने की सोच रहे हैं तो यह शुभ समय है। व्यापार में उन्नति होगी। अत्यधिक काम आपको मानसिक कष्ट दे सकता है।

एक्सपोर्टसेक्टरकेलिएखुशखबरीसरकारनेनिर्यातप्रोत्साहनकेलिएघोषितकी50000करोड़रुपएकीयोजनाCyrus Mistry Death: गाड़ी के सभी ऐयरबैग खुले, पिछला कैबिन सुरक्षित, साइरस मिस्त्री की मौत पर उठ रहे सवाल******टाटा संस के पूर्व चेयरमैन साइरस मिस्त्री की महाराष्ट्र के पालघर में रविवार को हुई एक सड़क दुर्घटना में मौत हो गई। वह 54 वर्ष के थे। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह दुर्घटना उस वक्त हुई जब मिस्त्री की कार मुंबई से सटे पालघर जिले में एक डिवाइडर से टकरा गई। उस समय मिस्त्री मर्सिडीज कार में अहमदाबाद से मुंबई लौट रहे थे। साइरस मिस्त्री की गाड़ी के हाल को देखकर पुलिस का कहना है कि प्रथम दृष्टया यह एक दुर्घटना की तरह लग रहा है। हालांकि अभी साइरस मिस्त्री की पोस्टमॉर्टम रिपोर्ट आनी बाकी है, उसके बाद ही उनकी मौत का स्पष्ट कारण पता लग पाएगा।लेकिन ये खबर जैसे ही इंटरनेट पर पहुंची सोशल मीडिया यूजर्स के मन में कई तरह के सवाल उठने लगे। लोगों का कहना है कि गाड़ी की हालत देखकर ये बात पचा पाना मुश्किल है कि हादसे में दो लोगों की जान चली गई। तस्वीरों में दिख रहा है कि हादसे के दौरान गाड़ी के सभी एयरबैग खुले हैं। कार के बॉनट वाला हिस्सा यानी कि फ्रंट एंड में खासा डैमेज हुआ है। आगे के कैबिन (अगली दो सीट) में थोड़ा नुकसान हुआ है और पीछे का हिस्सा एक दम ठीक हालत में है।ट्विटर पर इस घटना को लेकर कई यूजर्स ने संदेहजनक बताया है। एक यूजर ने तो इस घटना को मर्डर तक बता दिया। वहीं बीइंग क्रिप्स नाम के एक दूसरे यूजर ने सवाल किया कि क्या मर्सिडीज कार के अंदर सेफ्टी के कोई फीचर नहीं थे? यूजर ने कहा कि इस गाड़ी का केवल अगला हिस्सा डैमेज हुआ है। गाड़ी के इंटीरियर में भी कोई खासा नुकसान नहीं पहुंचा।हादसे के बाद कार में खून के भी कोई निशान नहीं दिख रहे। यूजर ने आगे लिखा कि तो फिर साइरस मिस्त्री की मौत कैसे हुई? हमें यह जानने की जरूरत है क्योंकि यह उन सभी ड्राइवरों के लिए एक सबक होगा जो सोचते हैं कि उनकी कार की सेफ्टी 5 स्टार रेटिंग वाली है।पालघर जिले के पुलिस अधीक्षक बालासाहेब पाटिल ने कहा, ‘‘दुर्घटना दोपहर लगभग 3.15 बजे हुई। मिस्त्री अहमदाबाद से मुंबई की ओर जा रहे थे। यह हादसा सूर्या नदी पर बने पुल पर हुआ।’’ पुलिस अधिकारी ने कहा, ‘‘दुर्घटना में मिस्त्री और एक अन्य व्यक्ति की मौके पर ही मौत हो गई, जबकि ड्राइवर समेत दो अन्य घायल हो गए। घायलों को इलाज के लिए गुजरात भेज दिया गया है।’’हादसे का शिकार हुई कार में मिस्त्री और ड्राइवर समेत कुल चार लोग सवार थे। एक पुलिस अधिकारी ने बताया कि यह हादसा कासा थाना क्षेत्र में सूर्या नदी पुल पर चरोटी नाका में हुआ। मिस्त्री की कार डिवाइडर से टकराने के बाद रिटेंशन वॉल से जाकर टकरा गई। हादसे में जान गंवाने वाले मिस्त्री और जहांगीर पंडोल के शवों को पोस्टमॉर्टम के लिए कासा ग्रामीण अस्पताल भेज दिया गया है।पाटिल ने कहा कि हादसे में घायल हुए दोनों लोगों-ड्राइवर अनायता पंडोल और डेरियस पंडोल को इलाज के लिए गुजरात के वापी के एक निजी अस्पताल में स्थानांतरित कर दिया गया है। इस घटना के बाद महाराष्ट्र के उपमुख्यमंत्री देवेंद्र फडणवीस ने मिस्त्री की मौत पर शोक जताया और जानकारी दी कि ऐक्सिडेंट में हुई मौत की जांच के लिए डीजीपी को आदेश दिए हैं। पालघर के पुलिस अधिकारी सचिन नवादकर ने कहा कि स्थानीय पुलिस इस मामले में आगे की जांच कर रही है।एक्सपोर्टसेक्टरकेलिएखुशखबरीसरकारनेनिर्यातप्रोत्साहनकेलिएघोषितकी50000करोड़रुपएकीयोजनाभारतीय खेल जगत को 4 महीने में नया अजूबा देगा एचपीसीए : अनुराग ठाकुर****** विश्व क्रिकेट को धर्मशाला जैसा खूबसूरत स्टेडियम देने के बाद हिमाचल प्रदेश क्रिकेट संघ (एचपीसीए) अगले चार महीनों के अंदर भारतीय खेल जगत को एक नया 'अजूबा' देने को तैयार है। यह बात के अध्यक्ष और भारतीय क्रिकेट कंट्रोल बोर्ड () के पूर्व अध्यक्ष अनुराग ठाकुर ने कही।हिमाचल में धर्मशाला के अलावा नादौन, उना और बिलासपुर में भी क्रिकेट स्टेडियम हैं, लेकिन उन्हें अंतर्राष्ट्रीय स्तर की मान्यता प्राप्त नहीं है। हालांकि इन मैदानों पर रणजी ट्रॉफी के मैच खेले जाते हैं।धर्मशाला जैसे और स्टेडियम बनाने की योजना पर अनुराग ने आईएएनएस से कहा, "मैं कम से कम ऐसे दो-तीन अजूबे और खड़े करना चाहता हूं जिसको दुनिया देखे। चार महीने का इंतजार करिए, 2018 में आपके सामने हम कुछ न कुछ बड़ा रखेंगे।"अनुराग से जब पूछा गया कि क्या धर्मशाला से बड़ा और खूबसरत स्टेडियम बनाएंगे? तो उन्होंने कहा, "कुछ अलग हट कर करेंगे।"तमिलनाडु ने अपनी क्रिकेट लीग शुरू की है। जिसे बीते बर्षो में काफी सराहना मिली है। अनुराग से जब इसी तर्ज पर हिमाचल प्रदेश में क्रिकेट लीग के विचार के बारे में पूछा गया तो उन्होंने इससे साफ इनकार कर दिया। उन्होंने कहा, "हिमाचल प्रदेश क्रिकेट लीग की कोई रणनीति नहीं है, क्योंकि मेरा मानना है कि हम जितनी ऐसी लीग शुरू करते हैं उसमें भ्रष्टाचार रोधी समिति का होना बेहद जरूरी है। दूसरा, उस राज्य के खिलाड़ी ही उसी में खेलें तो बेहतर है। क्योंकि हर राज्य के खिलाड़ी उस लीग में खेलना शुरू करेंगे तो आईपीएल की अहमियत कम हो जाएगी। आप ज्यादा लीग करा नहीं सकते।"

एक्सपोर्ट सेक्टर के लिए खुशखबरी: सरकार ने निर्यात प्रोत्साहन के लिए घोषित की 50,000 करोड़ रुपए की योजना

एक्सपोर्टसेक्टरकेलिएखुशखबरीसरकारनेनिर्यातप्रोत्साहनकेलिएघोषितकी50000करोड़रुपएकीयोजना1 जुलाई से महंगाई और निकालेगी दम, आपकी जेब पर बड़ा असर डालेंगे ये 5 बदलाव******Changes from 1st JulyHighlightsमहंगाई से लड़ते हुए आपने जैसे तैसे जून का महीना तो निकाल लिया, लेकिन जान लीजिए कि जुलाई का महीना आपके लिए महंगाई की एक किस्त लेकर आ रहा है। जुलाई से आपकी जेब पर असर डालने वाले कई नियम बदलने जा रहे हैं। नए बदलावों से क्रेडिट और डेबिट कार्ड के इस्तेमाल से लेकर क्रिप्टो में निवेश या फिर सबसे अहम कानूनी दस्तावेज पैन कार्ड से जुड़े कुछ बदलाव भी अमल में आ रहे हैं। इसके साथ ही आपको 1 जुलाई को एलपीजी सिलेंडर की महंगाई और दोपहिया की बढ़ती कीमतों का भी तोहफा मिल सकता है आइए जानते हैं जुलाई से होने वाले इन्हीं अहम बदलावों के बारे में।आधार-पैन लिंकिंग की तारीख तो 31 मार्च को ही खत्म हो चुकी है। लेकिन नई व्यवस्था के साथ सरकार ने जुर्माने के साथ पैन कार्ड (PAN Card) और आधार (Aadhaar Card) को लिंक करने की आखिरी तारीख 30 जून 2022 तय की है। 30 जून तक 500 रुपये जुर्माना है। 1 जुलाई 2022 के बाद पैन को आधार से लिंक करेंगे तो 1000 रुपये जुर्माना देना होगा।यदि आप इंफ्लुएंसर हैं और विभिन्न प्रोडक्ट कंपनियां आपको गिफ्ट में गैजेक्ट्स देती हैं, या फिर आप डॉक्टर हैं जिन्हें दवा कंपनियां सैंपल देती हैं तो आप अब टीडीएस के दायरे में हैं। 1 जुलाई 2022 से बिजनेस से प्राप्त गिफ्ट पर 10 फीसदी की दर से TDS देना होगा। यहां शर्त यह है कि यदि इन्फ्लुएंसर कंपनी द्वारा दिया गया गैजेट या अन्य प्रोडक्ट वापस कर देते हैं तो उन्हें यह टैक्स नहीं देना होगा।यदि आप क्रेडिट या डेबिट कार्ड यूजर हैं और ईकॉमर्स पर खरीदारी करते हैं तो आपके डेटा सुरक्षा को लेकर एक जुलाई से बदलाव होने जा रहा है। अब पेमेंट गेटवे, मर्चेंट, पेमेंट एग्रीगेटर और अधिग्रहण करने वाले बैंक कार्ड डिटेल सेव नहीं कर पाएंगे। इससे आम उपभोक्‍ता के डेटा की सुरक्षा होगी।क्रिप्टो करंसी के क्षेत्र में भारी उठा पटक के बावजूद बड़ी संख्या में लोग इसमें निवेश कर रहे हैं। क्रिप्टो बाजार के अनुसार भारत में 9 करोड़ से अधिक क्रिप्टो निवेशक हैं। नए बदलावों के तहत 1 जुलाई 2022 के बाद से यदि आपने 1 साल में क्रिप्टोकरेंसी में 10000 रुपये से अधिक का लेन-देन किया है तो आपको एक फीसदी का टीडीएस देना होगा। इनकम टैक्स डिपार्टमेंट ने वर्चुअल डिजिटल एसेट्स (VDA) के लिए टीडीएस के डिस्क्लोजर मानदंडों की अधिसूचना जारी कर दी है। इसके दायरे में सभी एनएफटी या डिजिटल करेंसी आएंगे।1 जुलाई से शेयर बाजार में निवेश करने वाले कई लोगों के डीमैट खाते (Demat account) बंद हो सकते हैं। 1 जुलाई से सभी डीमैट खातों के लिए केवाईसी (KYC) अनिवार्य होगी। इसकी आखिरी तारीख 30 जून 2022 का खत्म हो रही है। बता दें कि डीमैट अकाउंट में शेयर और सिक्योरिटीज़ रखने के लिए सुविधा दी जाती है।आप यदि बाइक खरीदने की सोच रहे हैं तो 30 जून तक यह काम भी पूरा कर लें। दिग्गज कंपनी हीरो मोटोकॉर्प 1 जुलाई से दोपहिया वाहनों की कीमत बढ़ाने जा रही है। कंपनी के वाहन 3,000 रुपये तक महंगे हो जाएंगे। माना जा रहा है कि हीरो मोटोकॉर्प की तरह दूसरी कंपनियां भी अपने वाहनों की कीमतें बढ़ा सकती हैं।एक्सपोर्टसेक्टरकेलिएखुशखबरीसरकारनेनिर्यातप्रोत्साहनकेलिएघोषितकी50000करोड़रुपएकीयोजनामानसून सीजन आधा खत्म, देश में सामान्य के मुकाबले हुई 6% कम बरसात******6 percent rainfall deficit seen during 2 months of monsoon period देश में मानसून सीजन आधा खत्म हो चुका है और अबतक बीते मानसून सीजन के दौरान देशभर में सामान्य के मुकाबले 6 प्रतिशत दर्ज की गई है। की तरफ से दी गई जानकारी के मुताबिक पहली जून से लेकर 31 जुलाई तक देशभर में औसतन 426.1 मिलीमीटर बरसात दर्ज की गई है जबकि सामान्य तौर पर इस दौरान 452.8 मिलीमीटर बारिश होती है। मौसम विभाग के मुताबिक जिन राज्यों में सामान्य से बहुत कम बरसात हुई है उनमें पूर्वोत्तर के अधिकतर राज्य शामिल हैं, इसके अलावा बिहार और झारखंड में भी सामान्य के मुकाबले बहुत कम बरसात दर्ज की गई है। मौसम विभाग के मुताबिक अबतक बीते में बिहार में 23 प्रतिशत कम, झारखंड में 24 प्रतिशत कम, अरुणाचल प्रदेश में 37 प्रतिशत कम, असम में 27 प्रतिशत, मेघालय में 43 प्रतिशत और मणिपुर में 64 प्रतिशत कम बरसात हुई है।हालांकि कई राज्य ऐसे भी हैं जहां सामान्य से ज्यादा बरसात हुई है। मौसम विभाग के मुताबिक कुल 36 राज्यों और केंद्र शसित प्रदेशों में से 2 में सामान्य से ज्यादा, 26 में सामान्य, 7 में सामान्य से कम और 1 में बहुत कम बरसात हुई है।मौसम विभाग ने आगे चलकर अगस्त में बारिश में हल्की कमी की आशंका जताई है। विभाग के मुताबिक अगस्त के दौरान जुलाई के मुकाबले कम बरसात हो सकती है, अगस्त के शुरुआती 10 दिन अच्छी बारिश की उम्मीद है लेकिन उसके बाद बरसात में कमी की आशंका है। अबतक बीते मानसून सीजन के दौरान कम बरसात की वजह से देश में खरीफ फसलों की खेती प्रभावित हुई है। केंद्रीय कृषि मंत्रालय के मुताबिक 27 जुलाई तक देशभर में खरीफ फसलों की खेती पिछले साल के मुकाबले 59.72 लाख हेक्टेयर पीछे दर्ज की गई है, 27 जुलाई तक देश में कुल 737.96 लाख हेक्टेयर में खरीफ की खेती दर्ज की गई है जबकि पिछले साल इस दौरान 797.96 लाख हेक्टेयर में फसल लग चुकी थी। कृषि मंत्रालय के मुताबिक धान का रकबा 27.96 लाख हेक्टेयर, दलहन का 9.89 लाख हेक्टेयर, मोटे अनाज का 12.10 लाख हेक्टेयर और कपास का 8.87 लाख हेक्टेयर पीछे दर्ज किया गया है।एक्सपोर्टसेक्टरकेलिएखुशखबरीसरकारनेनिर्यातप्रोत्साहनकेलिएघोषितकी50000करोड़रुपएकीयोजनाPM Narendra Modi govt 8 years: "गांधी नाम से राहुल गांधी का क्या लेना देना?" इंडिया टीवी संवाद में शिवराज सिंह का कांग्रेस पर बड़ा हमला******Highlights इंडिया टीवी संवाद (India TV Samvaad) महासम्मेलन के मंच पर मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने शिरकत की। India TV Samvaad महासम्मेलन के मंच पर मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान ने राहुल गांधी और कांग्रेस पार्टी पर जमकर हमले बोले। शिवराज सिंह ने कहा कि गांधी नाम से राहुल गांधी का क्या लेना देना है? प्रियंका गांधी वाड्रा, प्रियंका वाड्रा क्यों नहीं?इंडिया टीवी संवाद के मंच से मध्य प्रदेश के मुख्यमंत्री ने तीखा हमला बोलते हुए कहा कि राहुल गांधी न तो हिंदुत्व जानते हैं और न कोई अन्य तत्व जानते हैं। वह तो गांधी नाम का फायदा उठा रहे हैं। चमत्कार हुआ है राजनीति में। शिवराज सिंह ने कहा, "मुझे कोई बताए गांधी नाम से राहुल गांधी का क्या लेना देना है? प्रियंका गांधी वाड्रा, प्रियंका वाड्रा क्यों नहीं? गांधी जी के नाम को कब तक भुनाओगे?" सीएम शिवराज ने आगे कहा कि मैंने तो यह भी सुना है कि उनकी जो आने वाली पीढ़ी है वह भी गांधी नाम लगा रही है। गांधी के काम को अगर किसी ने साकार किया तो वह नरेंद्र मोदी जी हैं, यह केवल गांधी का नाम लेकर वोट की बात करते हैं।इस दौरान शिवराज सिंह चौहान ने कहा, "एक बात मैं गर्व के साथ और बहुत खुलकर कहना चाहूंगा कि एक समय था जब अपनी सनातन संस्कृति की चर्चा करने में लोग, विशेषकर नेता शर्म महसूस करते थे। हिंदू की बात मत कर देना नहीं तो लोग कहेंगे कि यह तो बहुत संकीर्ण आदमी है। मोदी जी ने देश की सनातन संस्कृति को भारत में, और दुनिया में भी स्थापित करके दुनिया को दिखा दिया कि भौतिकता की अग्नि में दग्ध इस मानवता को शाश्वत शांति के पथ का दिग्दर्शन यदि कोई कराएगा तो वह हमारा देश भारत कराएगा।"इंडिया टीवी संवाद में शिवराज सिंह ने कांग्रेस पर वार करते हुए कहा, "आज देखिए, एजेंडा बदल गया। जो कभी राम का नाम तक नहीं लेते थे। जो कहते थे कि राम काल्पनिक हैं, ये तो हुए ही नहीं, अब मध्य प्रदेश में कमलनाथ और दिग्विजय सिंह हनुमान चालीसा का पाठ कर रहे हैं, मजीरे बजाकर रामधुन गा रहे हैं। यह नरेंद्र मोदी हैं जिन्होंने देश का राजनीतिक और सांस्कृतिक एजेंडा बदल दिया। अब कमलनाथ रोज कहते हैं कि मैं तो हिंदू हूं। लेकिन भारत का भाव सर्वधर्म समभाव है।"

एक्सपोर्ट सेक्टर के लिए खुशखबरी: सरकार ने निर्यात प्रोत्साहन के लिए घोषित की 50,000 करोड़ रुपए की योजना

एक्सपोर्टसेक्टरकेलिएखुशखबरीसरकारनेनिर्यातप्रोत्साहनकेलिएघोषितकी50000करोड़रुपएकीयोजनाThe Kashmir Files का जलवा जारी, वहीं 'बच्चन पांडे' ने पहले दिन कमाए इतने करोड़******Highlightsरिलीज के सिर्फ आठ दिनोंमें,ने आलिया भट्ट की 'गंगूबाई काठियावाड़ी' और रणवीर सिंह की '83' जैसी बॉलीवुड फिल्मों के बॉक्स ऑफिस कलेक्शन को पीछे छोड़ दिया है। इसके अलावा होली के मौके पर रिलीज हुई अक्षय कुमार की फिल्म 'बच्चन पांडे' की रिलीज के बावजूद 'द कश्मीर फाइल्स' ने बॉक्स ऑफिस पर अपना शानदार प्रदर्शन जारी रखा है।विवेक रंजन अग्निहोत्री द्वारा निर्देशित फिल्म नेहोली पर अपने दूसरे सप्ताहांत में अब तक का हाईएस्ट कलेक्शन किया है। फिल्म ने केवल आठ दिनों में ही 100 करोड़ के क्लब में शामिल होने के साथ ही कुल 117 करोड़ रुपये की कमाई कर ली है।18 मार्च को होली के मौके पर रिलीज हुई यह अक्षय कुमार की फिल्म 'बच्चन पांडे' ने शानदार ओपनिंग की है। फिल्म ने अपने शुरुआती दिन में 13.25 करोड़ रुपये की कमाई करने में सफल रही है। भले ही फिल्म से काफी बेहतर बिजनेस करने की उम्मीद की जा रही थी लेकिन फिलहाल ये आंकड़े काफी होंगे क्योंकि 'द कश्मीर फाइल्स' दर्शकों सिनेमा देखने वालों की पहली पसंद है। वहीं ट्रेड एक्सपर्ट् का कहना है कि यह मूवी पहला वीकेंड खत्म होते-होते 60 करोड़ रुपये तक की कमाई कर लेगी।अभी तक आमिर खान की फिल्म 'दंगल' और प्रभास की 'बाहुबली: द कन्क्लूजन' ने अपने आठवें दिन शानदार कारोबार किया था। हालांकि अब 'द कश्मीर फाइल्स' ने यह रिकॉर्ड तोड़ दिया है। कश्मीर फाइल्स ने आठवें दिन 22 करोड़ रुपये की कमाई कर 'बाहुबली 2' और 'दंगल' का रिकॉर्ड तोड़ अपने नाम कर लिया है। बता दें कि आठवें दिन 'बाहुबली' ने 19.75 करोड़ रुपये जबकि 'दंगल' ने 18.59 करोड़ रुपये की कमाई की थी।वहीं भारत के कई राज्यों में 'द कश्मीर फाइल्स' को टैक्स फ्री घोषित कर दिया गया है। यहां तक ​​कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने भी 'द कश्मीर फाइल्स' की टीम से मुलाकात की और उन्हें सफलता पर बधाई दी साथ ही सभी से फिल्म देखने का आग्रह किया।फिल्म निर्देशक विवेक अग्निहोत्री ने अपनी फिल्म 'द कश्मीर फाइल्स' से राजनीतिक तूफान खड़ा कर दिया है। यह फिल्म आतंकवाद के कारण कश्मीर घाटी से कश्मीरी पंडितों के पलायन पर आधारित है। विवेक अग्निहोत्री को सीआरपीएफ कमांडो कवर के साथ 'Y' श्रेणी की सुरक्षा भी दी गई है।एक्सपोर्टसेक्टरकेलिएखुशखबरीसरकारनेनिर्यातप्रोत्साहनकेलिएघोषितकी50000करोड़रुपएकीयोजनाबिहार में पिछले 24 घंटे में 116 पॉजिटिव मामले आए, संक्रमितों की कुल संख्या 1495 हुई******बिहार में पिछले 24 घंटे में कोरोना वायरस के 116 पॉजिटिव मामले सामने आने के साथ ही संक्रमितों की कुल संख्या 1495 हो गई है। पिछले 24 घंटे में 2007 लोगों का कोरोना टेस्ट किया गया जिसमें 5.77 फीसदी की दर से 116 पोजिटिव केस मिले हैं। इनमें ज्यादातर सैंपल प्रवासियों के लिए गए हैं।बिहार में अभी तक कुल 50563 लोगों का टेस्ट हुआ है जिसमें 2.95 फीसदी की दर से 1495 पॉजिटिव मामले सामने आए है। 3 मई के बाद अभी तक 753 प्रवासी पॉजिटिव मरीज मिले हैं। सबसे ज्यादा दिल्ली से आ रहे लोगों में संक्रमण मिल रहा है। जानकारी के मुताबिक बिहार में कुल 198 कंटेन्मेंट जोन हैं जिसके अंतर्गत 1764 वार्ड शामिल हैं और 7 लाख 35 हजार घर हैं।बिहार में कोरोना वायरस संक्रमण का डबलिंग रेट 8 दिन है, जो समय के साथ घटता-बढ़ता है। बिहार में आज कुल 60 ट्रेनें पहुंच रही हैं जबकि कल 66 ट्रेनों से एक लाख लोग आनेवाले हैं। अभी तक जितनी ट्रेनों की प्लानिंग हो चुकी है उसके अनुसार 26 मई तक करीब 8 लाख लोगों को आना है।

एक्सपोर्ट सेक्टर के लिए खुशखबरी: सरकार ने निर्यात प्रोत्साहन के लिए घोषित की 50,000 करोड़ रुपए की योजना

एक्सपोर्टसेक्टरकेलिएखुशखबरीसरकारनेनिर्यातप्रोत्साहनकेलिएघोषितकी50000करोड़रुपएकीयोजनाएचडीएफसी बैंक ने भी घटाईं बचत खाते की ब्याज दरें, 50 लाख रुपए तक के जमा पर मिलेगा 3.5 फीसदी ब्‍याज****** निजी क्षेत्र के एचडीएफसी बैंक ने बचत बैंक खाता पर मिलने वाली ब्याज दर में 0.50 फीसदी की कटौती कर 3.5 फीसदी कर दिया है। यह कटौती 50 लाख रुपए तक की जमा राशि पर की गई है। बैंक 50 लाख रुपए से अधिक जमा वाले खातों पर 4 फीसदी ब्याज देता रहेगा। उल्‍लेखनीय है कि इससे पहले देश के सबसे बड़े बैंक SBI के अलावा एक्सिस और बैंक ऑफ बड़ौदा भी बचत खाते के ब्‍याज दरों में कटौती कर चुके हैं।GST रिटर्न दाखिल करने से पहले एनरोलमेंट एप्लिकेशन भरना जरूरी, बचें हैं सिर्फ 3 दिनबचत दर की समीक्षा के बाद जो ग्राहक अपने खातों में 50 लाख रुपए या उससे अधिक रखेंगे, उन्हें सालाना 4 फीसदी ब्याज मिलता रहेगा। जिन ग्राहकों के खाते में 50 लाख रुपए से कम होगा, उन्हें सालाना 3.5 फीसदी ब्याज मिलेगा।बोथीज तकनीक वाले डुअल कैमरे से लैस नोकिया 8 स्‍मार्टफोन हुआ लॉन्‍च, अक्‍टूबर से भारत में शुरू होगी बिक्रीसंशोधित दरें प्रवासी और गैर-प्रवासी दोनों ग्राहकों पर लागू होगी। नई दर 19 अगस्त से प्रभाव में आएगी। उल्लेखनीय है कि इससे पहले एसबीआई ने एक करोड़ रुपए और उससे कम जमा राशि वाले बचत खातों पर ब्याज दर 0.5 फीसदी घटाकर 3.5 फीसदी कर दिया था। इसके अलावा एक्सिस बैंक तथा सार्वजनकि क्षेत्र के बैंक आफ बड़ौदा ने भी बचत दर में 0.5-0.5 फीसदी की कटौती की है। यह कटौती 50 लाख रुपए तक की बचत जमा वाले खातों के लिये की गई है।पेट्रोल पंपों पर LED बल्‍ब, दवा और किराने के सामान बेचकर सरकार बढ़ाएगी अपनी कमाई

एक्सपोर्टसेक्टरकेलिएखुशखबरीसरकारनेनिर्यातप्रोत्साहनकेलिएघोषितकी50000करोड़रुपएकीयोजनाUric Acid Remedies: गर्मियों में इन 3 चीजों का सेवन करने से कंट्रोल रहेगा यूरिक एसिड******शरीर में जब यूरिक एसिड ज्यादा बनने लगती है तो किडनी के लिए इसे फिल्टर कर पाना मुश्किल हो जाता है। धीरे-धीरे ये यूरिक एसिड क्रिस्टलाइज होने लगता है और छोटे-छोटे कणों के रूप में नसों में बैठने लगता है। जिससे जॉइंट पेन, शरीर में सूजन और दर्द जैसी समस्याएं होने लगती हैं। हाई यूरिक एसिड लेवल वाले लोगों में आगे चलकर गठिया रोग की समस्या भी हो सकती है। इसीलिए, शरीर में यूरिक एसिड को बढ़ने से रोकना बहुत जरूरी है।गर्मियों में यूरिक एसिड को कंट्रोल रखने के लिए आप डायट में बदलाव कर सकते हैं। साथ ही लाइफस्टाइल में बदलाव लाकर और कुछ घरेलू नुस्खों की मदद से भी इस समस्या को कंट्रोल कर सकते हैं। यहां पढ़ें कुछ ऐसे ही नेचुरल उपाय और घरेलू नुस्खे जो हाई यूरिक एसिड के मरीजों के लिए काफी कारगर हैं।गर्मी के मौसम में खीरा खाने से शरीर को ठंडक मिलती है क्योंकि इसमें पानी की मात्रा भरपूर होती है। ऐसे में इसके सेवन से डिहाईड्रेसन की समस्या नहीं होती है। इतना ही नहीं, खीरे में एंटी-ऑक्सीडेंट पाया जाता है जो यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में मदद करता है। इसके अलावा इसमें मौजूद पोषक तत्व शरीर में जाकर यूरिक एसिड बढ़ने के कारण होने वाली दिक्कतों को कम करते हैं। खीरे का सेवन आप कच्चा, सलाद या फिर रायते के रूप में कर सकते हैं।बेरीज में एंटी-इंफ्लेमेट्री तत्व पाए जाते हैं जो शरीर में सूजन को कम करने में सहायक होते हैं। साथ ही, इसके सेवन से जोड़ों में जल्दी यूरिक एसिड के क्रिस्टल्स नहीं बनते हैं। ऐसे में खून में यूरिक एसिड का लेवल कंट्रोल में रहता है। इस बीमारी से जूझ रहे मरीजों को जामुन, स्ट्रॉबेरीज, चेरी और ब्लूबेरीज को अपनी डाइट में शामिल करना चाहिए।ये एक मौसमी सब्जी है जो सर्दियों के दिनों में ज्यादा खाया जाता है। हालांकि, गर्मियों में भी गाजर का सेवन फायदेमंद होता है। इसमें विटामिन ए और एंटीऑक्सीडेंट्स होते हैं जो यूरिक एसिड को कंट्रोल करने में मदद करते हैं। इसके अलावा, ये शरीर के फ्री रेडिकल्स को कंट्रोल करने में भी मददगार होते हैं। साथ ही जोड़ों के दर्द और सूजन को कम करने के लिए भी गाजर का सेवन फायदेमंद होता है। आप इसका सेवन सलाद, सब्जी या जूस के रूप में कर सकते हैं।एक्सपोर्टसेक्टरकेलिएखुशखबरीसरकारनेनिर्यातप्रोत्साहनकेलिएघोषितकी50000करोड़रुपएकीयोजनाUttar Pradesh News: भारी बारिश के चलते मलबे में दबकर लखनऊ के नौ मजदूरों समेत 22 लोगों की मौत******Highlightsउत्तर प्रदेश में भारी बारिश के कारण लखनऊ में मलबे के नीचे दबने से नौ मजदूरों समेत राज्‍य के विभिन्न हिस्सों में हुए वर्षा जनित हादसों में शुक्रवार को कुल 22 लोगों की मौत हो गयी। राज्‍य सरकार ने मृतकों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये आर्थिक सहायता देने की घोषणा की है। राहत आयुक्त कार्यालय द्वारा उपलब्ध करायी गयी ताजा जानकारी के अनुसार, जनपद लखनऊ में अतिवृष्टि से नौ, उन्नाव में पांच, फतेहपुर में तीन, झांसी में एक, रायबरेली में एक, प्रयागराज में दो तथा सीतापुर में एक व्यक्ति की मौत हुई है।सीएम ने मृतकों के परिजनों कोराहत राशि देने की घोषणा कीमुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने दिवंगतों के परिजनों को अनुमन्य राहत राशि तत्काल वितरित किए जाने के निर्देश दिए हैं और शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है। पुलिस और प्रशासन के अनुसार, भारी बारिश से चारदीवारी गिरने से जहां लखनऊ में नौ मजदूरों की मौत हुई है, वहीं उन्‍नाव जिले में कच्ची दीवार और झोपड़ी ढहने की तीन घटनाओं में तीन बच्चों सहित पांच लोगों की मौत हो गई। जबकि रायबरेली में पक्का मकान से गिरने से तीन वर्षीय बच्चे की मौत हो गयी और उसके माता-पिता, भाई-बहन घायल हो गये। वहीं प्रयागराज जिले में एक कच्चे मकान की दीवार गिरने से उसके मलबे में दबकर दो मासूम बच्चों की मृत्यु हो गई।लखनऊ में भारी बारिश का कहरपुलिस के वरिष्ठ अधिकारी ने बताया कि लखनऊ के दिलकुशा इलाके में गुरुवीाको रात भर हुई भारी बारिश के कारण ‘आर्मी एन्क्लेव’ की चारदीवारी गिरने से झांसी जिले के रहने वाले कम से कम नौ लोगों की मौत हो गई। उन्होंने बताया कि हादसे में दो लोग घायल हुए हैं। संयुक्त पुलिस आयुक्त (कानून व्यवस्था) पीयूष मोर्डिया ने बताया कि चाहरदीवारी ढहने से मरने वाले मजदूर दीवार के पास झोपड़ा बनाकर उसमें रह रहे थे। लखनऊ के जिलाधिकारी सूर्यपाल गंगवार ने ‘पीटीआई-भाषा’ को बताया कि रातभर हुई बारिश के बाद एक निर्माणाधीन दीवार गिरने से नौ लोगों की मौत हो गई, जबकि दो अन्य घायल हो गए। वहीं, संयुक्त पुलिस आयुक्त (कानून-व्यवस्था) ने बताया कि मृतकों में से छह की शिनाख्त मानकुंवर, धर्मेंद्र, नैना, प्रदीप, रेशमा और चंदा के रूप में की गई है।मुख्‍यमंत्री कार्यालय ने ट्वीट कर घटना पर दुख जताते हुए कहा है, “मुख्‍यमंत्री योगी आदित्‍यनाथ ने जनपद लखनऊ स्थित एक कॉलोनी में दीवार गिरने के हादसे में हुई जनहानि पर गहरा दुख जताया है। मुख्यमंत्री ने शोक संतप्त परिजनों के प्रति संवेदना व्यक्त की है।” ट्वीट के मुताबिक, योगी ने घटना में मारे गए लोगों के परिजनों को चार-चार लाख रुपये की आर्थिक मदद प्रदान करने के निर्देश दिए हैं। वहीं, राजभवन ने एक बयान जारी कर कहा कि राज्यपाल आनंदीबेन पटेल ने भी घटना में लोगों की मौत पर दुख व्यक्त किया है।राजनाथ सिंह ने ट्वीट कर जताया दुखकेंद्रीय रक्षा मंत्री और स्थानीय सांसद राजनाथ सिंह ने ट्वीट किया, “लखनऊ में एक दीवार गिरने से कई लोगों की मौत की खबर सुनकर मुझे बहुत दुख हुआ। जिन लोगों को इस हादसे में अपनी जान गंवानी पड़ी है, उनके परिजनों के प्रति मेरी गहरी संवेदनाएं हैं। इसके साथ ही मैं इस दुर्घटना में घायल सभी लोगों के शीघ्र स्वस्थ होने की कामना करता हूं।”उप मुख्यमंत्री ब्रजेश पाठक ने दिलकुशा के पीड़ितों से अस्पताल पहुंच कर मुलाक़ात की। पाठक ने ट्वीट किया, “आज लखनऊ कैंट विधानसभा के दिलकुशा में दीवार गिरने से हुई दुर्घटना में घायल हुए लोगों से सिविल अस्पताल पहुंचकर उनके स्वास्थ्य का कुशलक्षेम जाना एवं उच्च कोटि की स्वास्थ्य सुविधाओं से इलाज करने व हर संभव मदद हेतु डॉक्टर्स को निर्देशित किया।” वहीं, उन्नाव जिले में भारी बारिश के कारण कच्ची दीवार ढहने की तीन घटनाओं में तीन बच्चों सहित पांच लोगों की मौत हो गई। अधिकारियों ने बताया कि स्थानीय थाना पुलिस ने मृतकों का पंचनामा भरकर शव पोस्टमार्टम के लिए भेज दिए हैं।दिवार गिरने सेदबकर दो बच्चों की मौतउपजिलाधिकारी नरेंद्र सिंह ने बताया कि पुरवा तहसील के असोहा विकासखंड के कांथा गांव में गुरुवार रात भारी बारिश के कारण दीवार गिरने से अंकित (20), उन्नति (6) और अंकुश (4) की मौत हो गई। अधिकारियों ने बताया कि चांदपुर झलिहई थाना क्षेत्र के अजगैन गांव में भारी बारिश के कारण मकान की दीवार गिरने से बाल गोविंद (66) की मौत हो गई। मृतक के परिवार को भी आपदा राहत राशि उपलब्ध कराने की कवायद की जा रही है। उन्नाव जिले के ही अजगैन थाना क्षेत्र के कसांडा गांव के बाहर बांस और फूस की झोपड़ी बनाकर रहने वाले सोहन (75) के ऊपर बृहस्पतिवार की देर रात तेज बारिश और हवा से झोपड़ी गिर गई, जिसमें दबकर उसकी मौत हो गई। उपजिलाधिकारी (एसडीएम) हसनगंज देवेंद्र प्रताप सिंह ने घटना की पुष्टि की है।पुलिस ने बताया कि रायबरेली सदर कोतवाली क्षेत्र के मुर्रैयापुर मुहल्ले में शुक्रवार की सुबह तेज बारिश के कारण एक पक्का मकान गिर जाने से पूरा परिवार मलबे में दब गया, जिसमें तीन वर्षीय बच्चे की मौत हो गयी, जबकि परिवार के अन्य सदस्य घायल हो गए। जिला प्रशासन के अनुसार, मृतक की पहचान रजनीश के रूप में हुई है। प्रयागराज के जिलाधिकारी संजय कुमार खत्री ने बताया कि शुक्रवार की दोपहर छतौना गांव में एक कच्चे मकान की दीवार बारिश के दौरान ढह गई जिसमें दबकर दो बच्चों की मृत्यु हो गई।दोनों बच्चों के पिता सूरत में काम करते हैं। उन्होंने बताया कि इस घटना में कुमारी श्रेया (चार) पुत्री अभयराज और अमित कुमार (पांच) पुत्र मंगला प्रसाद की मृत्यु हो गई। घटना के समय दोनों बच्चे घर में खेल रहे थे। उत्तर प्रदेश में भारी बारिश को देखते हुए मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने संबंधित जिलों के अधिकारियों को राहत कार्यों पर नजर रखने और प्रभावित लोगों की मदद करने के निर्देश दिए हैं।

एक्सपोर्टसेक्टरकेलिएखुशखबरीसरकारनेनिर्यातप्रोत्साहनकेलिएघोषितकी50000करोड़रुपएकीयोजनाMumbai News: पत्नी को चकमा देकर गर्लफ्रेंड से मिलने विदेश गया था पति, लौटते वक्त हो गया गिरफ्तार, जानें पूरा मामला******Highlights कहते हैं कि इंसान कितना भी धोखा देने की कोशिश कर ले लेकिन एक दिन सारी सच्चाई सामने आ जाती है। ताजा मामला मुंबई से सामने आया है, जहां एक शख्स अपनी पत्नी को धोखा देकर विदेश में अपनी गर्लफ्रेंड से मिलने गया था। उसे लग रहा था कि इस बात का पता उसकी पत्नी को नहीं लगेगा लेकिन ऐसा हो ना सका और वह अपने पासपोर्ट की वजह से पकड़ा गया।दरअसल इस शख्स ने अपनी पत्नी से विदेश यात्रा की बात छिपाने के लिए अपने पासपोर्ट से कुछ पन्ने फाड़ दिए। लेकिन जब वह गुरुवार रात भारत वापस आया तो मुंबई एयरपोर्ट पर अधिकारियों ने चेकिंग के समय ये पाया कि उसके पासपोर्ट के कुछ पन्ने फटे हुए हैं। जब उससे पूछताछ की गई तो शख्स ने बताया कि वह अपनी पत्नी को नहीं बताना चाहता था कि वह विदेश यात्रा पर है। उसने अपनी पत्नी को केवल ये कहा था कि वह किसी काम से ही देश के किसी दूसरे शहर में जा रहा है।पत्नी को हुआ शक तो फाड़ दिए पासपोर्ट के पन्नेदरअसल ये शख्स अपनी गर्लफ्रेंड से मिलने विदेश गया था लेकिन उसकी पत्नी को कुछ शक हुआ तो उसने शख्स को फोन किया। लेकिन इस शख्स ने अपनी पत्नी का फोन नहीं उठाया और डर की वजह से पासपोर्ट के पन्ने फाड़ दिए।पुलिस ने बताया कि शख्स नहीं चाहता था कि उसकी पत्नी को उसके अफेयर के बारे में पता लगे, इसीलिए उसने ये कदम उठाया। हालांकि वह नहीं जानता था कि पासपोर्ट के साथ किसी तरह की छेड़छाड़ दंडनीय अपराध है।पुलिस ने किया गिरफ्तारशख्स को धोखाधड़ी और जालसाजी सहित भारतीय दंड संहिता (आईपीसी) की संबंधित धाराओं के तहत गिरफ्तार किया गया है। मामले की जांच जारी है।मुंबई में बेटे ने गला रेतकर मां की हत्या कीइसके अलावा महाराष्ट्र के मुंबई से एक चौंकाने वाली खबर सामने आई है। मुंबई के मुलुंड वर्धमान नगर में एक दिल दहला देने वाली घटना हुई है। यहां एक बेटे ने अपनी मां की चाकू से गला रेतकर हत्या कर दी। इसके बाद बेटे ने भी लोकल ट्रेन के सामने कूदकर सुसाइड की कोशिश की। पुलिस ने इस मामले में हत्या का मामला दर्ज कर लिया है और आगे की जांच जारी है। मृतक महिला का नाम छाया महेश पांचाल था और उनकी उम्र 46 साल थी। वहीं आरोपी बेटे का नाम जयेश महेश पांचाल है और उसकी उम्र 22 साल है।एक्सपोर्टसेक्टरकेलिएखुशखबरीसरकारनेनिर्यातप्रोत्साहनकेलिएघोषितकी50000करोड़रुपएकीयोजनामुख्‍यमंत्री अरविंद केजरीवाल ने की घोषणा, दिल्‍ली में इन लोगों को मिलेगी 5000 रुपये की सहायता राशि******Arvind kejriwal announces Rs 5,000 relief, other steps for migrant workers दिल्ली सरकार ने शुक्रवार को कहा कि दिल्ली भवन और अन्य निर्माण मजदूर कल्याण बोर्ड में पंजीकृत प्रत्येक मजदूर को मदद के रूप में पांच हजार रुपये की सहायता राशि प्रदान की जाएगी। एक बयान में दिल्ली सरकार ने बताया कि इस योजना के तहत निर्माण क्षेत्र के 2,10,684 मजदूरों को सहायता राशि मिलेगी। बयान के मुताबिक मौजूदा समय में दिल्ली सरकार ने 1,05,750 निर्माण मजदूरों में 52.88 करोड़ रुपये की राशि वितरित की है और आने वाले दिनों में और निर्माण मजदूरों को भी यह राहत राशि दी जाएगी। ने कहा कि दिहाड़ी मजदूरों, प्रवासियों और निर्माण मजदूरों की जरूरत को पूरा करने के लिए पूरे दिल्ली में स्कूलों और निर्माण स्थलों पर भोजन वितरण केंद्र स्थापित किए गए हैं। बयान में कहा गया कि करीब 7,000 खाने के पैकेट गुरुवार शाम तक इन भोजन वितरण केंद्रों से बांटे गए हैं। सरकार के मुताबिक निर्माण क्षेत्र के मजूदरों, दिहाड़ी और प्रवासी मजदूरों के लिए हेल्पलाइन स्थापित की जा रही है जो अगले दो-तीन दिन में काम करने लगेगी।ऑक्सीजन की जरूरत के लिए पहले नोडल अधिकारी से संपर्क करें अस्पताल, नर्सिंग होमदिल्ली उच्च न्यायालय ने शुक्रवार को अस्पतालों और नर्सिंग होम से कहा कि गंभीर रूप से बीमार कोविड-19 मरीजों के इलाज के लिए चिकित्सीय ऑक्सीजन की जरूरत को पूरा करने के लिए पहले यहां आप सरकार द्वारा नियुक्त नोडल अधिकारियों से संपर्क करें। न्यायमूर्ति विपिन सांघी और रेखा पल्ली की एक पीठ दो निजी अस्पतालों द्वारा अलग-अलग दायर याचिकाओं पर सुनवाई कर रही थी। इन अस्पतालों में ऑक्सीजन की कमी है और उन्होंने गंभीर रूप से बीमार कोविड-19 मरीजों के लिए तत्काल ऑक्सीजन की आपूर्ति के लिए अनुरोध किया था।पीठ ने कहा कि नोडल अधिकारियों से संपर्क के बाद भी अगर जरूरत पूरी नहीं हो रही है तब अस्पताल अदालत का रुख करने से पहले वरिष्ठ अधिवक्ता राहुल मेहरा और वकील सत्यकाम से संपर्क कर सकते हैं। ब्रम हेल्थ केयर लिमिटेड और बत्रा हॉस्पीटल एंड मेडिकल रिसर्च सेंटर ने याचिका दायर की थी।

एक्सपोर्टसेक्टरकेलिएखुशखबरीसरकारनेनिर्यातप्रोत्साहनकेलिएघोषितकी50000करोड़रुपएकीयोजनाHIGHLIGHTS, IPL 2021 MIvsDC: आवेश-अक्षर की घातक गेंदबाजी के सामने बिखरी टीम मुंबई, दिल्ली ने 4 विकेट से दर्ज की जीत******श्रेयस अय्यर (नाबाद 33) की सधी हुई बल्लेबाजी के दम पर दिल्ली कैपिटल्स ने यहां शारजाह क्रिकेट स्टेडियम में खेले गए आईपीएल 2021 के 46वें मुकाबले में मुंबई इंडियंस को चार विकेट से हराया। मुंबई ने टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करते हुए 20 ओवर में आठ विकेट पर 129 रन बनाए। लक्ष्य का पीछा करने उतरी दिल्ली की टीम ने अय्यर के 33 गेंदों पर दो चौकों की मदद से नाबाद 33 रन के दम पर 19.1 ओवर में छह विकेट पर 132 रन बनाकर मैच जीता। मुंबई की ओर से ट्रेंट बोल्ट, जयंत यादव, क्रुणाल पांड्या, जसप्रीत बुमराह और नाथन कोल्टर नाइल को एक-एक विकेट मिला।एक्सपोर्टसेक्टरकेलिएखुशखबरीसरकारनेनिर्यातप्रोत्साहनकेलिएघोषितकी50000करोड़रुपएकीयोजनाSecond Income: इस कंपनी के साथ जुड़कर मिलेगी दूसरी इनकम कमाने की आजादी, खुलकर जी सकेंगे जिंदगी******HighlightsSecond Income: देश में महंगाई जिस तरह बढ़ रही है, ऐसे में नौकरीपेशा व्यक्ति के लिए एक सैलरी से गुजारा कर पाना आसान नहीं होगी। बहुत से लोग चाहते हैं कि वे नौकरी के बाद खाली समय में कुछ और पैसों का जुगाड़ कर लें। लेकिन एक नौकरी के साथ दूसरी नौकरी की इजाजत नहीं मिलती। लेकिन अब ऐसा नहीं है। देश की अग्रणी फूड डिलीवरी सर्विस देने वाली कंपनी स्विगी एक खास ऑफर लेकर आई है। जिसमें एक कर्मचारी अपने खाली वक्त में दूसरी नौकरी कर सकता है। पिछले महीने, स्विगी ने अपने कर्मचारियों के दफ्तर आने की अनिवार्यता को समाप्त करते हुए स्थायी रूप से कहीं से भी काम करने की सुविधा देने की घोषणा की थी।स्विगी ने अपनी तरह की पहली ‘मूनलाइटिंग’ नीति लेकर आई है। जिसमें कर्मचारी आंतरिक स्तर पर मंजूरी लेकर दूसरे कार्य या अन्य परियोजनाओं पर काम कर सकते हैं। उसने कहा कि ये परियोजनाएं निशुल्क या आर्थिक लाभ देने वाली भी हो सकती हैं। कंपनी की ओर से जारी एक प्रेस रिलीज में कहा गया, ‘‘इसमें ऐसी कार्य हो सकते हैं जो कार्यालय के बाद या हफ्ते की छुट्टी के दौरान हो जिससे उनके काम पर असर नहीं पड़े और न ही स्विगी के व्यवसाय को लेकर हितों का टकराव हो।’’कामकाजी घंटों के बाद कर सकेंगे दूसरा काम‘मूनलाइटिंग पॉलिसी’ के तहत कर्मचारियों को एक और नौकरी करने की इजाजत होती है। वे दूसरी नौकरी कुछ नियम एवं शर्तों के साथ अपने प्राथमिक कार्य के कामकाजी घंटों के अतिरिक्त कर सकते हैं। कंपनी ने इस कदम के पीछे वजह बताई कि देशभर में लॉकडाउन लगने के दौरान अनेक कामकाजी लोगों के नए शौक विकसित हुए, कई ने ऐसी गतिविधियां शुरू कीं जो आय का अतिरिक्त स्रोत उन्हें देती हैं।स्विगी ने यह भी बताया है कि किस प्रकार आप अपने शौक पूरे करते हुए किसी भी दूसरे क्षेत्र में अपने हाथ आजमा सकते हैं। आप गैर सरकारी संगठन के साथ स्वैच्छिक रूप से काम करना, नृत्य प्रशिक्षक, सोशल मीडिया पर सामग्री प्रदान करना जैसे कार्य हो सकते हैं। स्विगी का मानना है कि पूर्णकालिक रोजगार के अलावा इस तरह की परियोजनाओं का किसी भी व्यक्ति के पेशेवर और व्यक्तिगत विकास में महत्वपूर्ण योगदान हो सकता है।’’

पिछला:कुमार सानू की आवाज का जादू आज भी है कायम, सुनें उनके 5 सबसे रोमांटिक गानें
अगला:भारतीय कंपनियों की विदेशी उधारी अप्रैल में बढ़कर तीन गुना हुई, 1.30 अरब डॉलर का जुटाया कर्ज
संबंधित आलेख