मुखपृष्ठ > लिंगाओ काउंटी
भारतीय सेना में जल्द शामिल होगी अग्नि 5 मिसाइल, चीन तक कर सकती है मार
रिलीज़ की तारीख:2022-09-29 03:33:37
विचारों:584

भारतीयसेनामेंजल्दशामिलहोगीअग्नि5मिसाइलचीनतककरसकतीहैमारBreaking News Live Updates : पढ़िए देश-दुनिया की बड़ी खबरें और रहिए हर वक्त अपडेट****** हमारे दैनिक जीवन में खबरों की बेहद महत्वपूर्ण भूमिका होती है। कुछ लोगों की सुबह यह जाने बगैर अधूरी ही रहती है कि दुनिया में क्या हो रहा है? जो लोग डिजिटल तकनीक को समझते हैं, वे अपने खाली समय में या यात्रा करते हुए भी देश-दुनिया की खबरों की जानकारी लेते रहते हैं। आज के दौर में, जबकि लोग खबरें पाने के लिए न्यूज वेबसाइट्स पर निर्भर हैं, इंडिया टीवी न्यूज आपको हर तरह की ब्रेकिंग न्यूज, ब्रेकिंग स्टोरी वीडियो, लाइव टीवी और अन्य बेहतरीन शो एक मंच पर उपलब्ध कराता है ताकि आप किसी भी जरूरी जानकारी से छूट ना जाएं। आप यहां सिर्फ एक पेज पर सभी तरह की ताजा खबरें और ब्रेकिंग न्यूज की लाइव कवरेज देख और पढ़ सकते हैं। पढ़ें दिन भर के बड़े अपडेट्स...

भारतीयसेनामेंजल्दशामिलहोगीअग्नि5मिसाइलचीनतककरसकतीहैमारखुशखबरी: सितंबर में रिकॉर्ड सस्‍ता हुआ सोना, 9 दिन में 6 बार घटी कीमतें******Big Gold downfall Gold tumbles Rs 196, silver tanks Rs 830 today 9 september citywise rateसितंबर का महीना सोना खरीदने वालों के लिए अच्‍छा है। एक सितंबर से लेकर अबतक सोने में कुल 6 बार गिरावट दर्ज की गई है, जबकि एक बार मामूली तेजी आई है। 31 अगस्‍त की तुलना में सोना सितंबर में सस्‍ता है। गुरुवार को भी राष्‍ट्रीय राजधानी में सोने की कीमतों में लगातार गिरावट का दौर बना रहा। सोना 196 रुपये और घटकर 45,952 रुपये प्रति दस ग्राम रह गया। 31 अगस्‍त को यहां 46,272 रुपये प्रति दस ग्राम थी। चांदी में भी बड़ी गिरावट रही। चांदी आज 830 रुपये टूटकर 62,715 रुपये प्रति किलोग्राम रह गई। इससे पहले बुधवार को चांदी 63,545 रुपये प्रति किलोग्राम पर बंद हुई थी। अंतरराष्‍ट्रीय बाजार में सोना मामूली तेजी के साथ 1793 डॉलर प्रति औंस और चांदी स्थिरिता के साथ 24.05 डॉलर प्रति औंस पर कारोबार कर रही थी। मोतीलाल ओसवाल फाइनेंशियल सर्विसेस के वाइस प्रेसिडेंट (कमोडिटीज रिसर्च) नवनीत दमानी ने कहा कि मजबूत अमेरिकी डॉलर के दबाव की वजह से सोने की कीमतें निरंतर 1800 डॉलर से नीचे बनी हुई हैं। कमजोर हाजिर मांग के बीच सटोरियों ने अपने सौदों के आकार को घटाया जिससे स्थानीय वायदा बाजार में गुरुवार को सोने का भाव 102 रुपये की गिरावट के साथ 47,105 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गया। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में दिसंबर महीने की डिलिवरी के लिए सोने की कीमत 102 रुपये यानी 0.22 प्रतिशत की गिरावट के साथ 47,105 रुपये प्रति 10 ग्राम रह गई। इसमें 5,003 लॉट के लिये कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कारोबारियों द्वारा अपने सौदों की कटान करने से सोना वायदा कीमतों में गिरावट आई। दूसरी ओर, वैश्विक स्तर पर न्यूयार्क में सोने की कीमत 0.12 प्रतिशत की तेजी के साथ 1,795.70 डॉलर प्रति औंस हो गई।कमजोर हाजिर मांग के कारण कारोबारियों ने अपने सौदों के आकार को घटाया जिससे वायदा कारोबार में गुरुवार को चांदी की कीमत 92 रुपये की गिरावट के साथ 64,091 रुपये प्रति किलो रह गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में चांदी के दिसंबर डिलीवरी वाले वायदा अनुबंध का भाव 92 रुपये यानी 0.14 प्रतिशत की गिरावट के साथ 64,091 रुपये प्रति किलो रह गया। इस वायदा अनुबंध में 10,278 लॉट के लिए सौदे किए गए। हालांकि, वैश्विक स्तर पर, न्यूयार्क में चांदी का भाव 0.29 प्रतिशत की तेजी के साथ 24.13 डॉलर प्रति औंस हो गया।कारोबारियों द्वारा अपने सौदों की कटान करने से वायदा कारोबार में गुरुवार को कच्चा तेल की कीमत चार रुपये की गिरावट के साथ 5,091 रुपये प्रति बैरल रह गई। मल्टी कमोडिटी एक्सचेंज में कच्चातेल के सितंबर डिलीवरी वाले अनुबंध की कीमत चार रुपये अथवा 0.08 प्रतिशत की गिरावट के साथ 5,091 रुपये प्रति बैरल रह गई जिसमें 5,142 लॉट के लिए कारोबार हुआ। बाजार विश्लेषकों ने कहा कि कमजोर हाजिर मांग के बीच व्यापारियों द्वारा अपने सौदों की कटान करने से वायदा कारोबार में कच्चातेल कीमतों में गिरावट आई। वैश्विक स्तर पर, न्यूयॉर्क में वेस्ट टैक्सास इंटरमीडिएट कच्चे तेल का दाम 0.35 प्रतिशत की गिरावट के साथ 69.06 डॉलर प्रति बैरल रह गया जबकि वैश्विक मानक माने जाने वाले ब्रेंट क्रूड का दाम 0.17 प्रतिशत घटकर 72.46 डॉलर प्रति बैरल रह गया।भारतीयसेनामेंजल्दशामिलहोगीअग्नि5मिसाइलचीनतककरसकतीहैमारअटल पेंशन योजना में सरकार देगी 1,000-5,000 रुपए की गारंटीड पेंशन, मात्र 210 रुपए प्रति माह करना होगा जमा****** मोदी सरकार चाहती है कि देश का प्रत्‍येक नागरिक 60 साल की उम्र के बाद पेंशन पाए और अपनी जरूरतें पूरी करने के लिए किसी का मोहताज न रहे। खास तौर असंगठिक क्षेत्र के मजदूरों लिए केंद्र सरकार ने अटल पेंशन योजना (APY-1) की शुरुआत की है। अटल पेंशन योजना पेंशन फंड अथॉरिटी एंड डेवलपमेंट अथॉरिटी द्वारा प्रशासित है और इसकी संरचना भी नेशनल पेंशन सिस्‍टम जैसी ही है। अगर कोई 20 साल का व्‍यक्ति प्रति माह 210 रुपए का येगदान इस स्‍कीम में करता है तो 60 साल की उम्र से उसे प्रति महीने 5,000 रुपए मिलेंगे।अटल पेंशन योजना के तहत 1,000 रुपए से 5,000 रुपए तक के पेंशन की गारंटी सरकार देती है। इसके अलावा, इस स्‍कीम में ग्राहक जितने पैसे डालेगा सरकार उसका आधा या 1,000 रुपए सालाना, जो भी राशि कम हो, अपनी तरफ से डालेगी। सरकार अटल पेंशन योजना से जुड़ने वाले सिर्फ उन्‍हीं लोगों के लिए पैसे डालेगी जो किसी भी सामाजिक सुरक्षा स्‍कीम से नहीं जुड़े हैं। सबसे बड़ी बात है कि अगर आपके पास बैंक खाता है तो आप बड़ी आसानी से अटल पेंशन योजना से जुड़ सकते हैं।अटल पेंशन योजना से देश का कोई भी नागरिक जुड़ सकता है जिसकी उम्र 18 से 40 साल है। इस योजना से जुड़ने के लिए आधार होना जरूरी है। इस योजना से जुड़ने के लिए आपके पास आधार कार्ड और मोबाइल नंबर होना चाहिए। अगर, अटल पेंशन योजना में रजिस्‍ट्रेशन करवाते समय आधार नहीं है तो इसकी जानकारी बाद में भी अपडेट करवाई जा सकता है।60 साल की उम्र होने के बाद आप इस योजना से निकल सकते हैं। आपके हाथ में जमा रकम नहीं दी जाएगी बल्कि प्रति माह आपको पेंशन देने के लिए एन्‍युइटी की खरीद की जाएगी। हां, अगर अटल पेंशन योजना से जुड़े व्‍यक्ति की असमय मृत्‍यु हो जाती है तो पति या पत्‍नी को पेंशन मिलेगी। दोनों की मृत्‍यु के मामले में नॉमिनी को पेंशन की जमा रकम सौंप दी जाएगी। 60 साल की उम्र से पहले अटल पेंशन योजना से नहीं निकल सकते लेकिन इस योजना से जुड़े व्‍यक्ति की मृत्‍यु या लाइलाज बीमारी होने की दशा में योजना से निकासी संभव है।अगर कोई व्‍यक्ति अटल पेंशन योजना के खाते में लगातार 6 महीने तक पैसे न डाले तो उसका अकाउंट फ्रीज कर दिया जाता है। 12 महीने पैसे न डालने पर खाता डिएक्टिवेट कर दिया जाता है और 24 महीने बाद बंद कर दिया जाता है। इसलिए, एक बार शुरुआत करने के बाद इसमें नियमित रूप से योगदान करते रहें।

भारतीय सेना में जल्द शामिल होगी अग्नि 5 मिसाइल, चीन तक कर सकती है मार

भारतीयसेनामेंजल्दशामिलहोगीअग्नि5मिसाइलचीनतककरसकतीहैमारCannes Film Festival 2019: कान्स के रेड कारपेट पर सेलेना गोमेज का डेब्यू, ड्रेस की वजह से लूटी महफिल******: पॉप सिंगर सेलेना गोमेज ने 72वां कान्स फिल्म फेस्टिवल के रेड कारपेट पर डेब्यू किया। इस खास मौके पर सेलेना ने व्हाइट कलर की हाई स्लीट ड्रेस पहनी थी साथ ही डॉयमंड का नेकलेस पहना था।सेलेना गोमेज इंस्टाग्राम पर सबसे ज्यादा फॉलो की जाने वाली महिला सेलेब्रिटी। इसके साथ ही बॉलीवुड से लेकर हॉलीवुड के स्टार के रेड कार्पेट पर जलवें बिखरने का सिलसिला भी शुरू हो चुका है।इसी बीच पहली सेलिब्रिटी हैं, जिन्होंने फ्रेंच रिवेरा रेड कार्पेट पर अपने हॉट एंड सेक्सी अंदाज से सभी को चौंका दिया और अगर आपने इन्हें अभी तक नहीं देखा है, तो आपको बता दें कि ये पॉप आइकन सेलेना गोमेज हैं।इससे पहले सेलेना गोमेज ने अपने इंस्टाग्राम पर नासमझ तस्वीरें पोस्ट की थीं, जो कान्स को उनके परिचय के रूप में दिखाती थीं।इतना ही नहीं सेलेना अपनी फिल्म द डेड डोंट डाई के प्रीमियर की तरह ही यहां भी उसी ऊर्जा के साथ नजर आईं।ये कहने की जरूरत नहीं है कि सेलेना कान्स के रेड कार्पेट पर कितनी खूबसूरत नजर आ रही थी।सेलेना कान्स के पहले दिन वाइट कलर की एक बेदह ही खूबसूरत ड्रेस में पहुंची थी, जिन्होंने वहा पहुंचते ही सबका दिल जीत लिया।हर किसी की नजरें केलव सेलेना पर ही आ कर अटक गई थीं।इसके साथ ही सेलेना ने अपने बालों को बांधा हुआ था और रेड लिपस्टिक ने उनकी खूबसूरती को और चार-चांद लगा दिए।इसके साथ ही सेलेना ने वाइट कलर की हिल्स कैरी की हुई थी।कुल मिला कर कहा जाए तो सेलेना का लुक बेहद स्टनिंग लग रहा था।सेलेना की इस लुक्स की काफी फोटो और वीडियो सोशल मीडिया परा वायरल हो रही हैं।इसके साथ ही उनके फैन्स को सेलेना का ये स्टनिंग और सेक्सी लुक बेहद पसंद आ रहा है।इससे पहले भी सेलेना ने अपने काफी फैन्स को निराश कर दिया था गया था।जी हां, दरअसल, सेलेना ने कुछ टाइम के लिए डिजिटल की दुनिया से विराम ले लिया था, लेकिन सेलेना एक बार फिर वापस आ गई और अपने फैन्स को निराशा से निकाल कर फिर उनके लिए कुछ खास करने वाली हैं।बता दें कि इससे पहले 24 सितंबर 2018 को सेलेना की आखिरी इंस्टाग्राम पोस्ट को देखा गया था, जिसके बाद सेलेना को लगातार मानसिक टूटने और कम सफेद रक्त कोशिका की गिरती हुई गिनती के चलके अस्पताल में भर्ती कराया गया था।वहीं लगभग चार महीने तक सोशल मीडिया से दूर रहने के बाद सेलेना वापस ग्राइंड में आ गई हैं।इसके साथ ही बता दें कि ऐश्वर्या राय बच्चन अभी भी अपनी टीम के साथ डेट कर रही हैं।भारतीयसेनामेंजल्दशामिलहोगीअग्नि5मिसाइलचीनतककरसकतीहैमार'प्यार का पंचनामा' ने पूरे किए 10 साल, नुसरत भरुचा बोलीं - चतुर लड़की का किरदार निभाना मेरे लिए आसान नहीं था******बॉलीवुड अभिनेत्री नुसरत भरुचा आज किसी पहचान की मोहताज नहीं है। उन्होंने अपने करियर की शुरुआत फिल्म 'प्यार का पंचनामा' से किया था। इस फिल्म में उनके अपोजिट अभिनेता कार्तिक आर्यन नजर आए थे। प्यार का पंचनामा 20 मई 2011 को रिलीज हुई थी। और अब इस फिल्म की रिलीज के 10 साल हो गए हैं।फिल्म के 10 साल पूरे होने पर अभिनेत्री नुसरत भरुचा ने खुशी जाहिर की है। उन्होंने इस फिल्म में एक चतुर लड़की का किरदार निभाया था। अपने पुराने दिनों को याद करते हुए नुसरत भरुचा कहती हैं, ''जब हम पिछले दिनों को याद करते हैं तो हम में से किसी को नहीं पता था कि यह फिल्म इस हद तक शानदार परफॉर्म करेगी।''उन्होंने कहा, ''मैनिपुलेटिंग और बॉयफ्रेंड को कंट्रोल करने वाली एक लड़की का किरदार निभाना मेरे लिए आसान नहीं था क्योंकि मैं 'नेहा' के किरदार से काफी अलग हूं।''नुसरत भरुचा कहती हैं कि लोगों ने उन्हें इस बात के लिए आगाह किया था कि उन्हें फिल्म को चुनने में जल्दीबाजी नहीं करनी चाहिए, बल्कि उस मौके का इंतजार करना चाहिए जिसमें बेहतर चेहरे हों। जब इस फिल्म को प्रोड्यूस किया जा रहा था तो उस फिल्म में सभी चेहरे नए थे।उन्होंने कहा, ''मगर मैं डेस्टिनी पर विश्वास करती हूं मुझे ऐसा लगता है कि इस जहान में हर इंसान का अलग-अलग नसीब है। मैं इसे सहजता के साथ कह रही हूं कि मैंने फिल्म को नहीं बल्कि फिल्म में मुझे चुना।''आज नुसरत भरूचा ने प्यार का पंचनामा गर्ल्स का टैग अपने नाम के आगे से हटा दिया है। उनके करियर की फिल्मों पर गौर करें तो उन्होंने कई हिट फिल्में दी हैं। आयुष्मान खुराना के साथ ड्रीम गर्ल फिल्म, इसके अलावा छलांग, सोनू के टीटू की स्वीटी और नेटफ्लिक्स रिलीज हुई अजीब दास्तां के जरिए उन्होंने यह साबित कर दिया है कि वह एक वर्सेटाइल एक्टर हैं।वर्क फ्रंट की बात करें तो नुसरत भरूचा आने वाले दिनों में अक्षय कुमार के साथ फिल्म राम सेतु में नजर आएंगी इसके अलावा उनकी चंद फिल्में पाइपलाइन में हैं जिनमें - हुड़दंग और छोरी शामिल है।भारतीयसेनामेंजल्दशामिलहोगीअग्नि5मिसाइलचीनतककरसकतीहैमारकोरोना के बढ़ते मामलों के बाद दिल्ली में हो सकती है बेड्स की कमी? सरकारी आंकड़े दे रहे हैं ये इशारा******Highlightsदेश में कोरोना के मामले तेजी से बढ़ रहे हैं। कुछ ऐसा ही हाल देश की राजधानी दिल्ली का भी है। दिल्ली में बुधवार को 27 हजार के ज्यादा नए कोरोना मरीजों की पुष्टि हुई है। नए मामले बढ़ने के साथ दिल्ली के अस्पतालों में मरीजों के भर्ती होने का आंकड़ा भी तेजी से बढ़ने लगा है। अब रोज़ाना भर्ती हो रहे मरीजों की संख्या ठीक होकर डिस्चार्ज होने वाले लोगों से दोगुनी हो गई है।दिल्ली में 5 से लेकर 11 जनवरी के बीच करीब 449 मरीज रोज़ाना अस्पताल में भर्ती हुए थे जबकि ठीक होकर सिर्फ 217 मरीज ही रोज़ाना डिस्चार्ज हुए हैं। इस दौरान कुल 3,146 मरीज अस्पताल में भर्ती हुए हैं जबकि सिर्फ 1,525 लोग ठीक होकर डिस्चार्ज हुए हैं। दिल्ली सरकार के डेटा पर नज़र मारें तो समझ आता है कि इस दौरान मरीजों के भर्ती होने का आंकड़ा तेजी से बढ़ता जा रहा है।पिछले एक हफ्ते में भर्ती होने वाले मरीजों की संख्या में अचानक उछाल आया है। 7 जनवरी को 400 से ज्यादा मरीज भर्ती हुए थे जबकि 10 जनवरी को भर्ती होने वाले मरीजों का आंकड़ा 500 छू गया था। 11 जनवरी को सबसे ज्यादा 511 कोरोना के मरीजों को अस्पताल में भर्ती किया गया था। डिस्चार्ज होने वाले मरीजों के आंकड़े पर नज़र दौड़ाएं तो 8 जनवरी को 315 मरीज ठीक होकर डिस्चार्ज हुए थे। जबकि 11 जनवरी को 311 मरीजों को अस्पताल से छुट्टी मिली थी। 12 जनवरी को दिल्ली में 40 मरीजों की मौत हुई है जबकि इससे ठीक एक दिन पहले 23 मरीजों की कोरोना से मौत हुई थी।आंकड़े एक बार फिर कोरोना के डर को सच साबित करते हैं क्योंकि दिल्ली में मरीजों की मौत लगातार बढ़ रही है। 9 और 10 जनवरी को 17 मरीजों की कोरोना से मौत हुई थी, 11 जनवरी को 23 मरीजों की मौत हुई थी और बुधवार यानी 12 जनवरी को मौत का आंकड़ा सीधा 40 हो गया था। मरने वालों में सबसे ज्यादा 41 और 60 की उम्र के बीच के हैं, क्योंकि इस उम्र के अब तक 37 लोगों की मौत कोरोना से हुई है। जबकि सात ऐसे मरीजों की मौत हुई है जिनकी उम्र 18-19 या उससे कम थी।

भारतीय सेना में जल्द शामिल होगी अग्नि 5 मिसाइल, चीन तक कर सकती है मार

भारतीयसेनामेंजल्दशामिलहोगीअग्नि5मिसाइलचीनतककरसकतीहैमारIND vs AUS: टीम इंडिया लगातार दोहरा रही गलतियां, ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले मैच में भी इन पांच कारणों से हारी******Highlightsभारतीय टीम के लिए चीजें ठीक नहीं चल रही हैं। टी20 वर्ल्ड कप के शुरू होने में अब एक महीने से भी कम का समय बचा है लेकिन टीम इंडिया लगातार गलतियों पर गलतियां किए जा रही है। एशिया कप 2022 में सुपर 4 राउंड में पाकिस्तान और श्रीलंका से मिली हार के बाद भी रोहित शर्मा एंड टीम कोई सीख नहीं ले पाई और ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टी20 में भी हार झेलने को मजबूर हुई। भारतीय टीम को हालांकि यह हार नसीब नहीं होती अगर उसकी तरफ से गलतियां नहीं हुई होतीं। भारतीय खिलाड़ियों की फील्डिंग मैच के दौरान औसत दर्जे की रही। टीम ने जहां अहम मौकों पर कैच छोड़े तो वहीं रन बचाने में भी नाकाम रहे। भारतीय खिलाड़ियों ने मैच में कुल तीन कैच छोड़े जो उसपर भारी पड़े। सबसे पहले अक्षर पटेल ने कैमरून ग्रीन का 42 के स्कोर पर कैच छोड़ा। इसके बाद केएल राहुल ने स्टीव स्मिथ का 19 रन पर कैच टपकाया और फिर हर्षल पटेल ने अपनी ही गेंदबाजी पर मैथ्यू वेड का कैच छोड़ दिया। जबकि ग्रीन-वेड और स्मिथ तीनों ने ही ऑस्ट्रेलिया के लिए मैच जिताऊ पारियां खेलीं।टीम इंडिया पिछले कुछ मैचों से अपनी कमजोर गेंदबाजी की वजह से मैच गंवा रही है। इस बार भी ऐसा ही हुआ। भारतीय गेंदबाज खासकर भुवनेश्वर कुमार, युजवेंद्र चहल और हर्षल पटेल ने जमकर रन लुटाए और 208 के स्कोर का बचाव करने में नाकाम रहे। भुवी और हर्षल ने तो डेथ ओवरों में मैच को हाथ से जाने दिया। भुवी ने 17वें और 19वें ओवर में मिलाकर 33 रन दिए तो वहीं हर्षल ने 18वें ओवर में 22 रन लुटा दिए।रोहित शर्मा की कप्तानी भी निराशाजनक रही। आईपीएल के सबसे सफल कप्तान रोहित के फैसलों पर सवाल उठे। वह गेंदबाजों का सही तरीके से इस्तेमाल नहीं कर पाए। उदाहरण के लिए ये जानते हुए भी कि भुवी डेथ ओवरों खासकर 19वें ओवर में पिछले दो मुकाबले हरा चुके हैं, उन्हें गेंदबाजी थमाई और परिणाम फिर से वही हुआ। वहीं अक्षर पटेल ने चौथे ओवर में शानदार गेंदबाजी करते हुए महज दो रन देकर एक विकेट लिया लेकिन उन्हें अगले ही ओवर में हटा दिया गया। इसके बाद अक्षर को नौवें ओवर में लाया गया।आपको अगर मुकाबले जीतने हैं तो उसके लिए हर मोर्चे पर खुद को मजबूत करना होग, लेकिन भारतीय टीम ऐसा नहीं कर पाई। ऑस्ट्रेलिया के लिए इस मैच में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले कैमरुन ग्रीन 17 के स्कोर पर ही आउट हो सकते थे, अगर भारतीय कप्तान और खिलाड़ियों ने डीआरएस ले लिया होता। लेकिन चहल के पहले ओवर की तीसरी गेंद सीधे ग्रीन के पैड पर लगी, लेकिन न तो चहल और दिनेश कार्तिक ने कोई अपील की और न ही रोहित ने डीआरएस की मांग की। जबकि रिप्ले में ग्रीन साफतौर पर आउट दिखे।टी20I में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले रोहित शर्मा और विराट कोहली दोनों ही इस मैच में फेल रहे। इसका खामियाजा यह हुआ कि टीम पॉवरप्ले में अधिक रन नहीं बना पाई और शुरू में ही उसके ऊपर दबाव आ गया। अगर हार्दिक-सूर्या का बल्ला नहीं चलता तो टीम 200 रन से नीचे ही रह जाती।भारतीयसेनामेंजल्दशामिलहोगीअग्नि5मिसाइलचीनतककरसकतीहैमारलाइसेंस और वाहन का रजिस्ट्रेशन 10 दिनों में करा लें अपडेट, 1 जनवरी से कटेंगे 5000 रुपये के चालान******From January 1, updated driving licence, registration certificate must for all driversयदि आपका ड्राइविंग लाइसेंस या वाहन पंजीकरण प्रमाणपत्र समाप्त हो गया है, तो आपको इसके नवीनीकरण के लिए जल्द ही आवेदन करना होगा क्योंकि कोरोना के चले परिवहन विभाग द्वारा दी जा रही छूट 31 दिसंबर को समाप्त हो रही है। कोविड-19 महामारी और इसके प्रसार पर अंकुश लगाने के लिए लगाए गए लॉकडाउन के कारण, ऐसे मोटर चालकों को चालान से छूट दी गई थी जिनका ड्राइविंग लाइसेंस (डीएल), पंजीकरण प्रमाणपत्र (आरसी) और फिटनेस प्रमाण पत्र जैसे दस्तावेज मार्च 2020 के बाद से एक्सपायर हो रहे थे। के साथ ड्राइविंग करते पाए गए।वरिष्ठ परिवहन अधिकारियों ने कहा कि यदि सड़क परिवहन और राजमार्ग मंत्रालय (MORTH) की ओर से ​एक बार फिर समय सीमा नहीं बढ़ाई जाती है तो नौ महीने तक दी गई छूट 1 जनवरी 2021 को समाप्त हो रही है। संशोधित मोटर वाहन (एमवी) अधिनियम के अनुसार, वैध लाइसेंस के बिना ड्राइविंग करने पर 5,000 रुपये का जुर्माना लगता है।डीएल के नवीकरण के लिए आवेदन करने के लिए, आवेदक parivahan.gov.in पर जा सकते हैं, "ड्राइविंग लाइसेंस-संबंधित सेवाओं" पर क्लिक करें और फिर "डीएल सेवाओं" पर क्लिक करें, जिसके बाद किसी को डीएल नंबर टाइप करना होगा और अन्य विवरण भरना होगा। दस्तावेज़ अपलोड करें और निकटतम RTO पर जाने के लिए स्लॉट बुक करने के लिए भुगतान करें। आरटीओ में, बायोमेट्रिक विवरण की जाँच की जाएगी और दस्तावेजों को सत्यापित किया जाएगा, जिसके बाद एक डीएल जारी किया जाएगा। प्रक्रिया आरसी को नवीनीकृत करने के समान है।राज्य परिवहन विभाग के साथ रिकॉर्ड से पता चला है कि रविवार तक डीएल -पोस्ट ऑनलाइन आवेदन जमा करने के नवीकरण के लिए आरटीओ में अपॉइंटमेंट पाने की प्रतीक्षा अवधि - दो से 60 दिनों तक थी। केके दहिया, विशेष आयुक्त (परिवहन) ने कहा “इस महीने, DL और RC पाने के लिए भीड़ बढ़ गई है। 13 आरटीओ में से प्रत्येक हर दिन 200 नवीकरण अनुरोधों को संसाधित करने में सक्षम है। इसके अलावा, नए दस्तावेज़ प्राप्त करने की तुलना में नवीनीकरण की प्रक्रिया बहुत आसान है।”

भारतीय सेना में जल्द शामिल होगी अग्नि 5 मिसाइल, चीन तक कर सकती है मार

भारतीयसेनामेंजल्दशामिलहोगीअग्नि5मिसाइलचीनतककरसकतीहैमारNZ vs SCO: न्यूजीलैंड ने बनाया अपना सबसे बड़ा स्कोर, स्कॉटलैंड को बड़े अंतर से हराकर सीरीज पर भी किया कब्जा******Highlightsन्यूजीलैंड की टीम ने स्कॉटलैंड के खिलाफ दूसरे टी20 मैच को 102 रन के बड़े अंतर से जीत लिया। इसके साथ ही कीवियों ने दो मैच की सीरीज को 2-0 से क्लीन स्वीप किया। शुक्रवार को खेले गए मुकाबले में मिचेल सैंटनर की कप्तानी में कीवियों ने इस मैच में अपना सबसे बड़ा टी20I स्कोर बनाया। मार्क चैपमैन और माइकल ब्रेसवेल की अर्धशतकीय पारियों की बदौलत न्यूजीलैंड ने पांच विकेट खोकर 254 रन बनाए। इसके बाद गेंदबाजों की मदद से स्कॉटलैंड को 152 रन पर ही रोक दिया।मैच की बात करें तो न्यूजीलैंड ने टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी का फैसला किया। हालांकि पिछले मैच में शतक लगाने वाले फिन एलेन तीसरे ही ओवर में छह रन बनाकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद डेन क्लीवर भी 16 गेंदों में 28 रन बनाकर जल्दी ही आउट हो गए। न्यूजीलैंड ने 60 के स्कोर पर अपनी सलामी जोड़ी के विकेट गंवा दिए। लेकिन इसके बाद मार्क चैपमैन (83) और डैरिल मिचेल (31) ने मिलकर पारी को आगे बढ़ाया और तीसरे विकेट के लिए 33 गेंदों में 62 रन की साझेदारी की।मिचेल 11वें ओवर में आउट हुए, लेकिन दूसरी छोर पर चैपमैन ने 27 गेंदों में अपना अर्धशतक पूरा किया और उसके बाद 17 गेंदों में 33 रन बनाकर करियर की बेस्ट पारी खेलते हुए 44 गेंदों में 83 रन बनाए। उन्होंने ब्रेसवेल के साथ भी 26 गेंदों में 53 रन की साझेदारी की। चैपमैन जब 16वें ओवर में आउट हुए तब न्यूजीलैंड का स्कोर 175/4 था।लेकिन इसके बाद ब्रेसवेल और नीशम ने जबरदस्त बल्लेबाजी की और महज 29 गेंदों में 79 रन जोड़े। दोनों ने मिलकर न्यूजीलैंड को उसके सबसे बड़े स्कोर तक पहुंचाया। इस दौरान ब्रेसवेल ने टी20I का अपना पहला अर्धशतक पूरा किया, जो महज 22 गेंदों में बना।न्यूजीलैंड के 255 रन के विशाल लक्ष्य का पीछा करने उतरी स्कॉटलैंड की शुरुआत अच्छी नहीं रही और उसने लगातार अपने विकेट गंवाए। न्यूजीलैंड के स्पिन अटैक के आगे स्कॉटलैंड की टीम पूरी तरह से संघर्ष करते दिखी। सैंटनर, सोढ़ी और ब्रेसवेल ने मिलकर तीन विकेट झटके जबकि माइकल रिपोन और जिमी नीशम ने दो-दो विकेट लिए। न्यूजीलैंड की कसी हुई गेंदबाजी के आगे स्कॉलैंड की टीम 20 ओवर में 9 विकेट खोकर 152 रन ही बना पाई और 102 रन से मैच गंवा बैठी।

भारतीयसेनामेंजल्दशामिलहोगीअग्नि5मिसाइलचीनतककरसकतीहैमारजैविक खाद्य उत्पादों की मांग में तेजी, सालाना 17 फीसदी की ग्रोथ दर्ज : सरकार******organic food marketनई दिल्ली। देश का जैविक खाद्य बाजार सालाना 17 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा है। दुनियाभर में स्वास्थ्यवर्द्धक खाद्य उत्पादों की बढ़ती मांग के चलते इसमें और अधिक तेजी से वृद्धि करने की संभावना है। केंद्रीय खाद्य प्रसंस्करण मंत्री हरसिमरत कौर बादल ने शुक्रवार को यह बात कही। केंद्रीय मंत्री ने दिल्ली के जवाहर लाल नेहरू स्टेडियम में एक ऑर्गेनिक फूड फेस्टिवल का उद्घाटन किया। इस मौके पर महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी भी मौजूद रही। इसका आयोजन दोनों मंत्रालयों ने भारतीय उद्योग परिसंघ के साथ मिलकर किया है।बादल ने कहा कि देश में जैविक खाद्य उत्पादों का कारोबार सालाना 17 प्रतिशत की दर से बढ़ रहा है। इसमें आने वाले समय में और तेज वृद्धि होगी। इस महीने की शुरुआत में उन्होने कहा था कि अगले पांच साल में देश का जैविक खाद्य बाजार 75,000 करोड़ रुपये को छू जाएगा। महिला एवं बाल विकास मंत्री स्मृति ईरानी ने इस अवसर पर कहा कि सरकार ने महिला उद्यमियों को कारोबार शुरू करने के वास्ते मुद्रा योजना के तहत कर्ज उपलब्ध कराने पर जोर दिया है। साथ ही स्मृति ईरानी ने कहा कि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी के नेतृत्व में और खाद्य प्रसंस्करण मंत्रालय के प्रयासों से उद्योग में प्रत्यक्ष विदेशी निवेश तेजी से बढ़ा है।दिल्ली में जारी महोत्सव महिला उद्यमियों के लिए आयोजित किया गया है। यह महोत्सव 21 से 23 फरवरी तक चलेगा। इसमें 180 महिला उद्यमियों, स्वयं सहायता समूहों और सहकारी संस्थानों ने प्रतिभाग किया है। इस मौके पर बादल ने जानकारी दी कि यह महोत्सव देशभर में छह बार आयोजित किया जाएगा। इसे आने वाले सालों में एक अंतरराष्ट्रीय प्रदर्शनी बनाने का मकसद है।भारतीयसेनामेंजल्दशामिलहोगीअग्नि5मिसाइलचीनतककरसकतीहैमारIND vs SCO: रोहित शर्मा आज 48 रन बनाते ही ये बड़ा रिकॉर्ड करेंगे अपने नाम******भारत और स्कॉटलैंड के बीच आज आईसीसी टी20 वर्ल्ड कप 2021 का 37वां मुकाबला दुबई इंटरनेशनल क्रिकेट स्टेडियम में खेला जाना है। इस मुकाबले में भारतीय सलामी बल्लेबाज रोहित शर्मा के पास विराट कोहली और मार्टिन गप्टिल के खास क्लब में शामिल होने का बेहतरीन मौका है। अफगानिस्तान के खिलाफ धुआंधार पारी खेलने वाले रोहित शर्मा अगर आज के मुकाबले में 48 रन बना लेते हैं तो T20I क्रिकेट में उनके 3000 रन पूरे हो जाएंगे। वर्ल्ड क्रिकेट में अभी तक विराट कोहली और मार्टिन गप्टिल ही दो ऐसे बल्लेबाज है जो इस मुकाम तक पहुंचे हैं।रोहित शर्मा के ने भारत के लिए अभी तक 114 T20I मैच खेले हैं जिसमें उन्होंने 32.43 की औसत से 2952 रन बनाए हैं। रोहित के नाम इस फॉर्मेट में 4 शतक दर्ज है। T20I क्रिकेट में सबसे ज्यादा रन बनाने वाले बल्लेबाजों की बात करें तो विराट कोहली 3225 रनों के साथ टॉप पर हैं, वहीं गप्टिल 3087 रनों के साथ दूसरे स्थान पर है।सेमीफाइनल में पहुंचने की संभावना दूसरी टीमों के प्रदर्शन पर निर्भर होने के कारण ‘अगर मगर’ के फेर में फंसी भारतीय टीम टी20 विश्व कप में स्कॉटलैंड के खिलाफ शुक्रवार को एक और ‘करो या मरो’ के मैच में बड़े अंतर से जीत दर्ज करने के इरादे से उतरेगी। अफगानिस्तान पर 66 रन से मिली जीत के बाद भारत की नजरें उस लय को कायम रखने पर लगी होगी। भारत को न सिर्फ जीत दर्ज करनी होगी बल्कि रनरेट सुधारने के लिये विशाल अंतर से जीत और दूसरी टीमों के नतीजे अपने अनुकूल रहने की भी उम्मीद करनी होगी। पाकिस्तान और न्यूजीलैंड से पहले दो मैचों में करारी हार से भारत का रनरेट भी खराब हो गया है।भारत के लिये अब हर मैच करो या मरो का ही है। पाकिस्तान लगातार चार जीत के साथ सेमीफाइनल में पहुंच चुका है और न्यूजीलैंड के भी ग्रुप दो से पहुंचने की संभावना प्रबल है। वैसे न्यूजीलैंड अगर नामीबिया या अफगानिस्तान से हारता है तो भारत की उम्मीदें बन सकती है। भारतीय टीम हालांकि उसी पर फोकस करना चाहेगी जो उसके हाथ में है। ऐसे में विराट कोहली और टीम की नजरें स्कॉटलैंड को भारी अंतर से हराने पर लगी है।विराट कोहली (कप्तान), ऋषभ पंत (विकेटकीपर), केएल राहुल, रोहित शर्मा, सूर्यकुमार यादव, हार्दिक पांड्या, रवींद्र जडेजा, रविचंद्रन अश्विन, शार्दुल ठाकुर, मोहम्मद शमी, जसप्रीत बुमराह, ईशान किशन, भुवनेश्वर कुमार, वरुण चक्रवर्ती , राहुल चाहर काइल कोएत्जर (कप्तान), मैथ्यू क्रॉस (विकेटकीपर), जॉर्ज मुन्सी, रिची बेरिंगटन, कैलम मैकलियोड, माइकल लीस्क, क्रिस ग्रीव्स, मार्क वाट, सफ्यान शरीफ, अलास्डेयर इवांस, ब्रैडली व्हील, हमजा ताहिर, डायलन बज, क्रेग वालेस , जोश डेवी

भारतीयसेनामेंजल्दशामिलहोगीअग्नि5मिसाइलचीनतककरसकतीहैमारसैमसंग गैलेक्सी जेड फोल्ड 2 लॉन्च, कीमत करीब 1.5 लाख रुपये******samsung Galaxy Z fold 2 launched सैमसंग ने मंगलवार को तीसरा फोल्डेबल डिवाइस-गैलेक्सी जेड फोल्ड 2 का ग्लोबल लॉन्च किया। इस शानदार फोन में 6.2 इंच का कवर स्क्रीन है। साथ ही इसका मेन स्क्रीन खुलने पर स्क्रीन साइज 7.6 इंच का है। सैमसंग के मुताबिक गैलेक्सी फोल्ड में 4.6 इंच का कवर स्क्रीन और 7.3 इंच का मुख्य स्क्रीन है और इस आधार पर गैलेक्सी जेड फोल्ड 2 काफी उन्नत है। यह फोन 12जीबी रैम व 512जीबी मेमोरी और 12जीबी रैम व 256जीबी मेमोरी के साथ उपलब्ध है।गैलेक्सी जेड फोल्ड 2 में 4500 एमएएच की बैटरी है, जो गैलेक्सी फोल्ड (4380एमएएच) तुलना में शक्तिशाली है। गैलेक्सी जेड फोल्ड 2 सैमसंग का तीसरा फोल्डेबल स्मार्टफोन है। इससे पहले कम्पनी गैलेक्सी फोल्ड और गैलेक्सी जेड फ्लिप लॉन्च कर चुकी है। गैलेक्सी जेड फोल्ड 2 मिस्टिक ब्लैक और मिस्टिक ब्रांज रंगों में उपलब्ध है। यह स्मार्टफोन दुनिया भर के 40 बाजारों में उपलब्ध होगा, जिसमें अमेरिका और दक्षिण कोरिया प्रमुख हैं।फोन को अमेरिका और दक्षिण कोरिया में 18 सितम्बर से हासिल किया जा सकता है, जबकि इसकी प्री बुकिंग एक सितम्बर से शुरू हो गई है। नए डिवाइस में 10 मेगापिक्सल सेल्फी कैमरा है और रियर कैमरे में तीन सेंसर हैं। रियर कैमरों में 12एमपी अल्ट्रा वाइड, 12एमपी वाइड एंगल और 12एमपी टेलीफोटो कैमरा है, जिसके साथ 10 एक्स जूम उपलब्ध है।स्मार्टफोन की कीमत 1999 डॉलर रखी गई है, जो कि भारत में करीब 1.5 लाख रुपये के बराबर है, फिलहाल सैमसंग ने स्मार्टफोन के भारत में उतारे जाने या फिर भारतीय ग्राहकों के लिए इसकी कीमत का खुलासा नहीं किया गया है। कंपनी ने अपने पहले दोनो फोल्डेबल फोन भारत में उतारे थे इसलिए पूरी उम्मीद है कि नया स्मार्टफोन भी जल्द भारतीय बाजार में उतारा जाएगा।भारतीयसेनामेंजल्दशामिलहोगीअग्नि5मिसाइलचीनतककरसकतीहैमारUdaipur Murder Case : कन्हैयालाल हत्याकांड की तहकीकात अब यूपी तक पहुंची, पीलीभीत में दावत-ए-इस्लामी की जांच तेज******Highlights उदयपुर (Udaipur) के कन्हैयालाल हत्याकांड (Kanhayala Murder Case) की जांच अब उत्तर प्रदेश तक पहुंच गई है। पीलीभीत में दावत-ए-इस्लामी के ठिकानों की तेजी से तहकीकात हो रही है। जांच में इस बात का पता चला है कि पीलीभीत में 1400 जगहों पर दावत-ए-इस्लामी के गुल्लक रखे गए हैं। इन गुल्लक के जरिए फंड जमा किया जाता था। गुल्लक की जांच के साथ-साथ दावत-ए-इस्लामी के स्कूलों पर भी एक्शन हुआ है।बिना मान्यता के स्कूल चलाने का आरोपउत्तर प्रदेश के शिक्षा विभाग ने दावत-ए-इस्लामी को नोटिस भेज कर 2 दिनों के भीतर स्कूल बंद करने का आदेश दिया है। आरोप है कि दावत-ए-इस्लामी बिना मान्यता के स्कूल चला रहा है। कन्हैयालाल हत्याकांड केस में पुलिस दावत-ए-इस्लामी की भूमिका की जांच कर रही है। यह तहकीकात इसलिए हो रही है क्योंकि हत्याकांड के एक आरोपी रियाज का संबंध दावत-ए-इस्लामी से है।NIA की टीम का उदयपुर में सर्च अभियानउधर, कन्हैयालाल हत्याकांड की जांच कर रही NIA की टीम अपने डेढ़ दर्जन से ज्यादा सदस्यों के साथ आज उदयपुर पहुंची। आज सुबह इस टीम ने अपना अभियान शुरू किया और इस केस में गिरफ्तार आरोपियों के घर और उनके ठिकानों पर दबिश दी। कन्हैयालाल मर्डर केस में हिरासत में लिए गए संदिग्धों से एनआईए की टीम पूछताछ करेगी। वहीं NIA टीम आज सीन का रीक्रिएशन भी कराएगी।कन्हैयालाल की हत्या के बाद उदयपुर के 7 थाना क्षेत्रों में कर्फ्यूगौरतलब है कि उदयपुर शहर में पिछले दिनों दो लोगों ने दर्जी कन्हैयालाल की हत्या कर दी थी, जिसके बाद क्षेत्र में सांप्रदायिक तनाव पैदा हो गया था। शहर के सात थाना क्षेत्रों में कर्फ्यू लगा दिया गया था। पैगंबर मोहम्मद के खिलाफ भाजपा की निलंबित प्रवक्ता नुपुर शर्मा की कथित विवादास्पद टिप्पणी का सोशल मीडिया पर समर्थन करने पर दर्जी कन्हैयालाल की पिछले हफ्ते रियाज अख्तरी और गौस मोहम्मद नाम के दो लोगों ने चाकू से हमला कर हत्या कर दी थी। दोनों आरोपियों को वारदात के कुछ घंटों बाद राजसमंद के भीम क्षेत्र से गिरफ्तार कर लिया गया था।कन्हैयालाल को सुरक्षा न देना शर्मनाक-शेखावतइस बीच केंद्रीय जलशक्ति मंत्री गजेंद्र सिंह शेखावत ने भी उदयपुर में कन्हैयालाल के परिजनों से मुलाकात कर उनका दर्द साझा किया। शेखावत ने कहा कि कन्हैयालाल को बार-बार धमकी मिलने के बावजूद पुलिस द्वारा केवल आश्वासन देना, बार-बार सुरक्षा की गुहार लगाने के बावजूद सुरक्षा प्रदान न करना, बल्कि उन्हीं को सीसीटीवी कैमरा लगाने के लिए बाध्य करना और अंतिम समय तक सुरक्षा मांगने पर यह कहना कि ‘वी आर जस्ट ए फोन कॉल अवे’ (हम बस एक फोन कॉल दूर हैं) शर्मनाक है।

भारतीयसेनामेंजल्दशामिलहोगीअग्नि5मिसाइलचीनतककरसकतीहैमारदेश के खजाने को संभालने वाले RBI गवर्नर को मिलते है 2.09 लाख रुपए महीना, नहीं है कोई सहायक कर्मचारी****** देश के बैंकिंग सिस्टम के कुल रिजर्व करीब 25 लाख करोड़ रुपए है और इनको को संभालने का जिम्मा RBI (रिजर्व बैंक ऑफ इंडिया) गवर्नर का होता है। पर शायद ही आप जानते हो कि इतने बड़े रिजर्व को संभालने वाले RBI गवर्नर हर महीने दो लाख रुपए से कुछ ही ज्यादा का वेतन मिलता है। साथ ही, उनके घर पर कोई सहायक कर्मचारी भी नहीं दिए गए हैं। यह जानकारी केंद्रीय बैंक ने सूचना के अधिकार के तहत पूछे गए एक प्रश्न के जवाब में दी है।नोटबंदी का असर: महज 7 दिन में 1500 रुपए सस्ता हुआ सोना, चांदी के दाम 2165 रुपए गिरे[iframe src=”भारतीयसेनामेंजल्दशामिलहोगीअग्नि5मिसाइलचीनतककरसकतीहैमारमहंगा कच्चा तेल लगा रहा है भारत की तिजोरी में सेंध, विदेशी मुद्रा भंडार में आई 5 अरब डॉलर की गिरावट******महंगे कच्चे तेल के आयात से देश की विदेशी मुद्रा (Forex) की ताकत घट रही है। ताजा आंकड़ों के अनुसार देश का विदेशी मुद्रा भंडार (Forex Reserve) एक जुलाई को समाप्त सप्ताह में 5.008 अरब डॉलर घटकर 588.314 अरब डॉलर रह गया।भारतीय रिजर्व बैंक (RBI) के आंकड़ों के अनुसार 24 जून को समाप्त पिछले सप्ताह के दौरान, विदेशी मुद्रा भंडार 2.734 अरब डॉलर बढ़कर 593.323 अरब डॉलर हो गया था। एक जुलाई को समाप्त सप्ताह में विदेशी मुद्रा भंडार आई गिरावट का कारण विदेशी मुद्रा का घटना है जो कुल मुद्रा भंडार का एक महत्वपूर्ण हिस्सा है। इसके अलावा स्वर्ण आरक्षित भंडार घटने से भी विदेशीमुद्रा भंडार कम हुआ है।आंकड़ों के अनुसार सप्ताह में विदेशी मुद्रा संपत्तियां (FCA) 4.471 अरब डॉलर घटकर 524.745 अरब डॉलर रह गयी। डॉलर में विदेशी मुद्रा भंडार में रखे जाने वाली विदेशी मुद्रा आस्तियों में यूरो, पौंड और येन जैसी गैर-अमेरिकी मुद्राओं में मूल्यवृद्धि अथवा मूल्यह्रास के प्रभावों को शामिल किया जाता है।आंकड़ों के अनुसार, सप्ताह में स्वर्ण भंडार का मूल्य भी 50.4 करोड़ डॉलर घटकर 40.422 अरब डॉलर रह गया। बीते सप्ताह में, अंतर्राष्ट्रीय मुद्रा कोष (आईएमएफ) के पास जमा विशेष आहरण अधिकार (एसडीआर) 7.7 करोड़ डॉलर घटकर 18.133 अरब डॉलर रह गया। आईएमएफ में रखे देश का मुद्रा भंडार भी 4.4 करोड़ डॉलर बढ़कर 5.014 अरब डॉलर हो गया।

पिछला:कोरोना वायरस से जंग: रेलवे के कर्मचारियों ने अपनी एक दिन की सैलरी PM-CARES फंड में दी
अगला:सा रे गा मा पा लिटिल चैंप्स की विनर बनीं केरल की आर्यनंदा बाबू, ट्राफी के साथ जीता 5 लाख कैश प्राइज
संबंधित आलेख